भारत बंद: देश के कई राज्यों में पड़ा असर, केजरीवाल नज़रबंद

0

कृषि कानून के खिलाफ किसानों द्वारा बुलाए गए भारत बंद का असर देश के अलग-अलग इलाकों में देखने को मिला.कई संगठन प्रदर्शन कर रहे हैं. यूपी, महाराष्ट्र, ओडिशा समेत अन्य राज्यों में ट्रेनें रोकी गई हैं. किसान संगठनों ने सुबह 11 से दोपहर 3 बजे तक चक्का जाम की बात कही है. किसानों को कई राजनीतिक दलों और पूर्व खिलाड़ियों का समर्थन प्राप्त है .

 

राजस्थान के जयपुर में बीजेपी और कांग्रेस के कार्यकर्ता आमने-सामने आ गए. जयपुर बीजेपी दफ्तर के बाहर बीजेपी-कांग्रेस कार्यकर्ताओं में पत्थरबाजी तक हो गई

भारत बंद में अब तक

कृषि कानून के खिलाफ किसानों द्वारा बुलाए गए भारत बंद के बीच आम आदमी पार्टी ने बड़ा आरोप लगाया है. AAP का कहना है कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को घर में ही नजरबंद कर दिया गया है. बीते दिन जब से अरविंद केजरीवाल सिंधु बॉर्डर से वापस आए हैं, तभी से घर के बाहर नजरबंद के हालात बनाए हुए हैं.

आम आदमी पार्टी का कहना है कि घर के बाहर सुरक्षा बढ़ा दी गई है और अब बाहर नहीं निकलने दिया जा रहा है. इसकी वजह से दिल्ली सीएम की सभी बैठकें रद्द हो गई हैं.

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि कांग्रेस इस कानून के पक्ष में थी, भारत बंद कोई समाधान नहीं है और ना ही कोई इसका औचित्य है. शिवराज ने कहा कि शरद पवार ने बतौर मंत्री उन्हें APMC में बदलाव के लिए चिट्ठी लिखी थी, लेकिन अब विपक्ष अपना रुख बदल रहा है. सरकार किसानों से खुले मन से बात करना चाहती

 

भारत बंद का असर अलग-अलग राज्यों में दिख रहा है. बंगाल में ट्रेड यूनियन ने किसानों के समर्थन में मार्च निकाला.

 

बिहार के दरभंगा में राजद कार्यकर्ताओं ने कानून के विरोध में टायर फूंके गए.

 

Share.