संकटमोचन मंदिर पर संकट, मिली धमाके की धमकी

0

उप्र के वाराणसी के प्रसिद्ध संकटमोचन मंदिर में एक धमकी भरा पत्र मिला है, जिसमें मंदिर को उड़ाने की धमकी दी गई है। यह धमकी भरा पत्र मिलते ही पूरे इलाके में हड़कंप मच गया। धमकी भरे पत्र में साल 2006 में हुए धमाके से भी बड़ा धमाका करने की बात कही गई है। इस बात की जानकारी मंदिर के महंत प्रो. विश्वंभरनाथ मिश्र ने दी।

प्रसिद्ध संकट मोचन मंदिर के महंत ने जानकारी दी कि सोमवार की रात उन्हें एक धमकी भरा पत्र मिला, जिसमें मंदिर को धमाके से उड़ाने की धमकी दी गई थी। महंत के अनुसार, पत्र में लिखा था कि साल 2006 के मार्च महीने में मंदिर में किए गए धमाके से भी बड़ा धमाका किया जाएगा और इस धमकी को नजरअंदाज न करने की चेतावनी भी दी गई है। इस मामले में मंदिर के महंत ने मंगलवार देर रात थाने में लिखित शिकायत दर्ज करवाई।

धमकी भरे इस पत्र में जमादार मियां और अशोक यादव का नाम लिखा हुआ है। महंत की शिकायत पर दोनों लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है। इस धमकी को गंभीरता से लेते हुए पुलिस ने तत्काल इस मामले की जांच शुरू कर दी है।

गौरतलब है कि 7 मार्च 2006 को वाराणसी के इस प्रसिद्ध संकट मोचन मंदिर के अलावा कैंट स्टेशन और दशाश्वमेघ घाट पर सिलसिलेवार धमाके किए गए थे, जिसमे कुल 18 लोगों की मौत हो गई थी और 100 से भी अधिक लोग घायल हुए थे। 7 लोग संकटमोचन मंदिर में और 11 लोग कैंट स्टेशन में हुए धमाके में मारे गए थे।

Share.