नशे में धुत स्टेशन मास्टर ने नहीं दिया ट्रेन को सिग्नल

0

अपने मजे के चक्कर में स्टेशन मास्टर ने यात्रियों की मुसीबत कर दी। बिहार के समस्तीपुर रेलवे स्टेशन पर ट्रेन सिग्नल के इंतज़ार में घंटों खड़ी रही और स्टेशन मास्टर शराब के नशे में बेसुध अपने केबिन में पड़ा रहा। ऑन ड्यूटी स्टेशन मास्टर ने जमकर शराब पी और धुत हो गया। हंगामा मचाने के बाद वह कुर्सी पर सो गया और सिग्नल के इंतज़ार में कई ट्रेनें घंटों रुकी रहीं। इतना ही नहीं स्टेशन मास्टर ने शराब के नशे में स्टेशन पर हंगामा भी किया।

समस्तीपुर रेलमार्ग पर सिहो स्टेशन पर कार्यरत स्टेशन मास्टर शराब पीकर मस्त हो गए और हंगामा मचाने के बाद कुर्सी पर ही सो गए और खर्राटे भरने लगे।  रेल परिचालन बाधित होने की खबर मिली तो उसके बाद सोनपुर के डीआरएम और कंट्रोल को इसकी सूचना दी गई। इसके बाद मामले की जांच हुई तो स्टेशन मास्टर की करतूत सामने आई। कर्मियों ने जब इसकी जानकारी कंट्रोल रूम को दी तो आरपीएफ इंस्पेक्टर व यातायात निरीक्षक ने मौके पर पहुंचकर पड़ताल शुरू की, जिसके बाद शराब के नशे में धुत स्टेशन मास्टर को गिरफ्तार कर थाने लाया गया।

प्राप्त खबरों के अनुसार, गुरुवार रात पहले जमकर शराब पी और फिर नशे में धुत होकर हंगामा किया। शराब का नशा चढ़ा तो वह अपने केबिन में ही होश खो बैठा। इस दौरान ग्रीन सिग्नल नहीं मिलने के कारण कई गाड़ियां जहां-तहां खड़ी रहीं। इस दौरान समस्तीपुर रूट पर कई जगहों पर ट्रेनों का परिचालन बाधित रहा।

सिहो स्टेशन पर कार्यरत स्टेशन मास्टर का नाम राकेश कुमार बताया जा रहा है। राकेश कुमार ने शाम से ही शराब पीना शुरू कर दिया। साथियों द्वारा मना करने पर जमकर हंगामा भी किया। फिलहाल स्टेशन मास्टर को गिरफ्तार कर लिया गया है।

Share.