बजरंगबली, तोड़ ऐसे लोगों की नली…

2

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा हनुमानजी को दलित बताने के बाद देशभर में बयानबाजी का दौर शुरू हो गया है। बजरंगबली के अलग-अलग जाति के होने का दावा किया जा रहा है। इसे लेकर महायुद्ध छिड़ा हुआ है। एक के बाद एक नेताओं के बयान सामने आ रहे हैं। कोई हनुमान को दलित, कोई उन्हें मुसलमान तो कोई उन्हें जाट बता रहा है। भगवान हनुमानजी की जाति को लेकर हो रही बयानबाजी की मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजयसिंह ने कड़ी आलोचना की है।

दिग्विजयसिंह ने ट्वीट कर भाजपा नेताओं पर हमला किया है। उन्होंने लिखा है कि भाजपा नेता ये किस धर्म का पालन कर रहे हैं? भाजपा के मुख्य मंत्री हनुमानजी को दलित बताते हैं, भाजपा के विधान परिषद के सदस्य उन्हें मुसलमान बताते हैं, भाजपा के मंत्री उन्हें जाट बताते हैं। हम तो उन्हें ईश्वर का अवतार मानते हैं। “जय बजरंगबली, तोड़ ऐसे लोगों की नली।“

गौरतलब है कि विधानसभा चुनाव के दौरान जनसभा को संबोधित करते हुए यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हनुमानजी को दलित बताया था, जिसको लेकर जमकर विवाद हुआ था। इसके अलावा यूपी के अल्पसंख्यक मंत्री लक्ष्मीनारायण चौधरी ने विधान परिषद में हनुमानजी को जाट बताया था। वहीं विधायक बुक्कल नवाब ने हनुमानजी को मुस्लिम बताया। बुक्कल नवाब ने तर्क दिया कि हनुमानजी मुस्लिम थे इसलिए मुसलमानों द्वारा जो नाम रखा जाता है, वो हनुमान शब्द से मिलता-जुलता होता है। उन्होंने कहा कि हनुमान से मिलते-जुलते नाम सिर्फ इस्लाम में ही रखे जाते हैं।

अब बजरंगबली को बता दिया मुसलमान

योगी : कांग्रेस को चाहिए अली, हमें चाहिए बजरंगबली

OMG : यह मूर्ति जपती है राम नाम

Share.