केरल में बाढ़ और बारिश से तबाही   

1

केरल में बाढ़ और बारिश के कारण स्थिति भयावह बनी हुई है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, बाढ़ की वजह से अब तक 37 लोगों की मौत हो चुकी है वहीं हज़ारों लोग बेघर हो चुके हैं। रविवार को इदुक्की में 20.86 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई। बाढ़ के कारण राज्य में 8 हजार करोड़ से ज्यादा का नुकसान हुआ है।

राजनाथ ने किया हवाई सर्वेक्षण

गृहमंत्री राजनाथसिंह ने बाढ़ के संकट से जूझ रहे केरल का हवाई सर्वेक्षण किया। उन्होंने एर्नाकुलम जिले के एक राहत शिविर का जायजा लिया और पीड़ितों की परेशानियां सुनीं। उन्होंने कहा कि राज्य के हालात बहुत गंभीर हैं। केंद्र सरकार इससे निपटने के लिए केरल की हरसंभव मदद करने को तैयार है। राजनाथ ने 100 करोड़ रुपए का राहत पैकेज देने का भी ऐलान किया।

सहायता राशि की घोषणा

राज्य सरकार ने बाढ़ में अपनी संपत्ति खोने वाले प्रत्येक परिवार को 10 लाख रुपए देने की घोषणा की है। सीएम ने घर गंवाने वालों को 4 लाख रुपए सहायता राशि देने की घोषणा की है। करीब 10 हजार लोग 200 राहत शिविरों में रह रहे हैं। सीएम ने कहा कि राहत शिविरों में रहने वाले प्रत्येक व्यक्ति को 3,800 रुपए दिए जाएंगे।

निशुल्क बदले जाएंगे पासपोर्ट

विदेशमंत्री सुषमा स्वराज ने कहा कि केरल की बाढ़ में जिन लोगों के पासपोर्ट को नुकसान हुआ है, सरकार उन्हें बदलने के लिए कोई शुल्क नहीं लेगी।

बचाव अभियान जारी

बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए 24 घंटे बचाव कार्य चलाया जा रहा है। बाढ़ से सबसे ज्यादा प्रभावित कन्नूर, वायनाड, कोझिकोड, इडुक्की और मल्लपुरम के क्षेत्र हैं। 50 से अधिक राहतकर्मियों की 10 टीमें 24 घंटे राहत-बचाव कार्य में जुटी हुई है।

Share.