ये हैं भगवान राम के वंशज

0

भगवान राम के बारे में हम सभी जानते हैं, लेकिन क्या आप जानते हैं कि उनके वंशज आज भी हैं। जयपुर का शाही परिवार भगवान राम के वंशज है। इसका दावा राजमाता पद्मिनीदेवी ने किया है। उन्होंने दावा किया है कि उनके पति भवानीसिंह भगवान राम के बेटे कुश के 309वें वंशज थे।

कौन थे महाराजा भवानीसिंह?

महाराजा मानसिंह (द्वितीय) और महारानी मरुधर कंवर के पुत्र ब्रिगेडियर महाराज सवाई भवानी सिंह (22 अक्टूबर 1931 -17 अप्रैल 2011) जयपुर के महाराज थे, जिन्हें भारत-पाकिस्तान युद्ध में महावीर चक्र प्रदान किया गया। 10 अक्टूबर 1967 में इनका विवाह राजा राजेंद्र प्रकाश बहादुर, सिरमूर के राजघराने की कन्या पद्मिनी देवी से विवाह किया। इनकी एकमात्र पुत्री दीया सिंह (सवाई माधोपुर से भाजपा विधायक) हैं।

भगवान राम के वंशज का विवादों से था नाता

महाराजा भवानीसिंह और रानी पद्मिनीदेवी की बेटी दीया सिंह ने शादी नरेंद्र सिंह से की। नरेंद्र सिंह किसी राजघराने से नहीं हैं। वे जयपुर राजघराने में काम करते थे। इस कारण परिवार के लोगों ने एक आम शख्स से शादी का विरोध किया था। वहीं कोई बेटा न होने की वजह से महाराज भवानीसिंह ने अपनी पुत्री दीया सिंह के बेटे पद्मनाभ सिंह को अपना उत्तराधिकारी चुना था। इस बात को लेकर काफी विवाद हुआ।

प्रॉपर्टी को लेकर विवाद

सवाई मानसिंह द्वितीय की तीसरी पत्नी गायत्रीदेवी के निधन की संपत्ति को लेकर लगातार राजघराना घिर चुका है। दो वर्ष पहले जयपुर डेवलपमेंट अथॉरिटी ने होटल राजमहल पैलेस को सील कर दिया था, जिसके विरोध में राजमाता गायत्रीदेवी अपने नाती राजा पद्मनाभसिंह के साथ सड़कों पर उतर आई थीं।

दीयासिंह भाजपा से विधायक

राजकुमारी दीया सवाई माधोपुर से भाजपा विधायक हैं। उनके बेटे पद्मनाभसिंह पोलो खिलाड़ी हैं। दीया सिंह की एक बेटी गौरवी और छोटा बेटा लक्ष्यराज सिंह है। कई बॉलीवुड सेलिब्रिटीज से इनके संबंध है।

Share.