Video: कपड़ा मिलों के मजदूरों ने की 5-5 लाख की मांग

0

अनंत चतुर्दशी पर निकलने वाले पारंपारिक गणेश विसर्जन चल समारोह में शामिल होने वाली चलित झांकियां बनाने के लिए बंद कपड़ा मिलों के मजदूरों ने शासन से 5-5 लाख रुपए की अनुदान राशि की मांग की है। इस बीच मजदूरों को इंदौर विकास प्राधिकरण की ओर से मिलने वाली एक-एक लाख रुपए की अनुदान राशि नहीं मिल सकेगी| आईडीए ने मजदूरों को अनुदान राशि दिए जाने से इनकार कर दिया है। इसके बाद मजदूरों के सामने एक बड़ी परेशानी खड़ी हो गई है। अब मजदूर नेताओं ने परंपरा को जीवित रखने के लिए कलेक्टर निशांत वरवड़े के सामने अपनी परेशानी बताते हुए अनुदान राशि की मांग की है।

परंपरा का हिस्सा हैं झांकियां

बंद हुकुमचंद मिल गणेश उत्सव समिति के अध्यक्ष नरेंद्र श्रीवंश ने बताया कि गणेश विसर्जन चल समारोह में शामिल होने वाली चलित झांकियां शहर की 100 साल पुरानी परंपरा का हिस्सा हैं। बढ़ती मंहगाई के चलते अब कम बजट में झांकियों का निर्माण एक बड़ी चुनौती बन गया है। ऐसे में परंपरा के निर्वहन के लिए सभी बंद कपड़ा मिलों को शासन आर्थिक मदद दें, जिससे झांकियां बनाने का काम शुरू किया जा सके।

बिजली बिल माफ करने की मांग

बंद कपड़ा मिलों की गणेश उत्सव समितियों के पदाधिकारियों ने कलेक्टर निशांत वरवड़े से मुलाकात कर, पिछले वर्षों के बकाया बिजली बिलों को माफ़ किए जाने की मांग की है। साथ ही यह भी मांग की है कि इस उत्सव में लगने वाली बिजली प्रशासन मुहैया करवाए,  जिससे उत्सव समितियों पर पड़ने वाला आर्थिक भार कम हो सके।

10 वर्षों से मिल रही मदद हुई बंद

इंदौर विकास प्राधिकरण की ओर से पिछले 10 वर्षों से मिल रही अनुदान राशि अब बंद हो गई है। इस बात की जानकारी बंद कपड़ा मिलों की उत्सव समितियों को गत वर्ष ही आईडीए ने एक पत्र  के माध्यम से दे दी थी।  आईडीए ने यह निर्णय शासन स्तर पर इस राशि को लेकर किसी प्रकार का फैसला नहीं लिए जाने के कारण लिया|

दोनों जगह से मिले आश्वासन

बंद कपड़ा मिलों की उत्सव समितियों को कलेक्टर वरवड़े और आईडीए अध्यक्ष शंकर  लालवानी की ओर से भरोसा दिया गया है कि वे इस संबंध में शासन  स्तर पर चर्चा कर अनुदान राशि दिलवाने का रास्ता साफ करेंगे। इस बीच मजदूरों ने पत्र के माध्यम से संभागायुक्त राघवेंद्रसिंह को भी अपनी परेशानी से अवगत करवा दिया है।

यह खबर भी पढ़े- तेज़ रफ़्तार ने ली 3 छात्रों की जान

यह खबर भी पढ़े- ‘कल्पेश से जुड़े कई ऑडियो हैं मेरे पास’

यह खबर भी पढ़े- जल्द होंगे नए खुलासे, पुलिस खोलेगी ‘राज़’ 

Share.