खुद को बताता था पीएम का आध्यात्मिक गुरु, गिरफ्तार…

0

दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने कथक सम्राट पुलकित मिश्रा उर्फ पुलकित महाराज को गिरफ्तार कर लिया है। पुलकित बड़े-बड़े नेताओं और मंत्रियों के साथ अपनी फोटो दिखाकर टशन दिखाता था। पुलकित खुद को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आध्यात्मिक गुरु बताता था और अलग-अलग राज्यों में जाकर वीआईपी प्रोटोकॉल मांगता था। पीएमओ की शिकायत के बाद पुलकित की गिरफ्तारी दिल्ली के रोहिणी इलाके से हुई। गिरफ्तारी के बाद उसे कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उसे 5 दिन के पुलिस रिमांड पर भेज दिया गया है। फिलहाल पुलिस पूछताछ करने में जुट गई है।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, अगस्त महीने में साहिबाबाद के रहने वाले पुलकित महाराज ने खुद को उत्तरप्रदेश के सीतापुर में कलेक्टर को कला एवं संस्कृति मंत्रालय का डायरेक्टर बताया। उसने सिक्योरिटी और सर्किट हाउस बुक करने की बात भी कही। एक अप्रैल को पुलकित सीतापुर गए, जहां उसे पुलिस और प्रशासन ने वीवीआईपी प्रोटोकॉल और सिक्योरिटी मुहैया करवाई, लेकिन कलेक्टर को शक हुआ तो उन्होंने इस बात की शिकायत मंत्रालय से की और पीएमओ की तरफ से जांच क्राइम ब्रांच को सौंपी गई।

जांच में पता चला कि पुलकित महाराज खुद को कभी पीएम का आध्यात्मिक गुरु तो कभी किसी मंत्रालय के फर्जी लेटर हेड पर अपनी ऊंची पहुंच का हवाला देकर कई राज्यों में स्टेट गेस्ट का दर्जा तक पा चुका है। इसके साथ ही कई शहरों में वहां के अधिकारियों को अपना रुतबा दिखाकर वीवीआईपी ट्रीटमेंट भी हासिल कर चुका है। पुलकित महाराज एक कत्थक डांसर है। दिल्ली के सटे गाजियाबाद के साहिबाबाद इलाके में एक डांस अकादमी और आध्यात्मिक सेंटर भी चलाता है। पुलकित महाराज को राष्ट्रपति सम्मान भी मिला है।

Share.