‘पेथाई’ चक्रवात ने मचाई भारी तबाही

1

आंध्रप्रदेश के पूर्वी गोदावरी तट से चक्रवात ‘पेथाई’ के टकराने से आम जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया। पूरे क्षेत्र में भारी बारिश के साथ 90 किमी प्रति घंटे की रफ़्तार से हवाएं चल रही हैं। इन तेज़ हवाओं और बारिश के कारण कई पेड़ और बिजली के खंभे  उखड़ गए। चक्रवाती तूफ़ान ‘पेथाई’ ने आंध्रप्रदेश के अलावा ओडिशा में भी तबाही मचाई। तूफ़ान के कारण रेल और विमान परिचालन में भी बाधा आई। भारी बारिश के कारण हुए भूस्खलन में 1 व्यक्ति की मौत हो गई जबकि 7 मछुआरे लापता बताए जा रहे हैं।

चक्रवात ‘पेथाई’ से सबसे ज्यादा पूर्वी गोदावरी जिला प्रभावित हुआ। राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने जानकारी दी है कि विजयवाड़ा शहर में तेज़ बारिश से हुए भूस्खलन में 28 साल के एक व्यक्ति की मौत हो गई। वहीं इस तूफ़ान से हुई तबाही की वजह से तकरीबन 21,000 लोगों को बेघर होना पड़ा। इन लोगों को राहत शिविरों में पहुंचाया गया है।

कृष्णा जिले के कलेक्टर बी. लक्ष्मी कांतम ने मृतक के परिवार को तत्काल 50,000 रुपए की सहायता राशि देने का ऐलान किया। वहीं राज्य के उपमुख्यमंत्री एनसी राजप्पा राहत और बचाव कार्य की निगरानी के लिए पूर्वी गोदावरी जिले का हवाई दौरा कर रहे हैं। आपदा प्रबंधन की तरफ से मिली जानकारी के अनुसार, तटीय क्षेत्र से 7 मछुआरों के लापता होने की खबर मिली है। प्रबंधन ने चेतावनी जारी करते हुए मछुआरों को तटीय क्षेत्रों में जाने से मना किया है। एहतियात के तौर पर तटीय जिलों में शैक्षाणिक संस्थानों को भी बंद कर दिया गया है।

गाज़ा तूफान, तबाही की आशंका

आंध्रप्रदेश और ओडिशा में ‘पेथाई’ की तबाही

इस राज्य की ओर तेज़ी से बढ़ रहा तूफ़ान

Share.