51 दिन में कोर्ट ने दुष्कर्मी को सुनाई मौत की सज़ा

0

करीब 2 महीने पहले सतना के परसमनिया में एक शख्स ने 4 वर्ष की मासूम के साथ दुष्कर्म किया| बुधवार को बड़ा फैसला लेते हुए सत्र न्यायाधीश दिनेश कुमार शर्मा की कोर्ट ने दोषी को फांसी की सज़ा सुनाई| कोर्ट ने महज 51 दिनों में फैसला सुनाते हुए दोषी को मृत्युदंड की सज़ा दी| आरोपी 25 वर्षीय युवक महेन्द्रसिंह गौड़ ने 30 जून और 1 जुलाई की रात को 4 वर्षीय मासूम के साथ दुष्कर्म को अंजाम दिया है|

वहीं दुष्कर्म पीड़िता का इलाज अभी भी दिल्ली के एम्स हॉस्पिटल में चल रहा है| सतना के सचेहरा थाना अंतर्गत परसमनिया में 1 जुलाई की रात चार साल की मासूम को घर से अगवा कर दुष्कर्म करने का मामला सामने आया था| इसमें गांव का शिक्षक महेंद्रसिंह गौड़ निवासी पन्ना टोला को जांच के बाद आरोपी बनाया था और गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया था| 34 दिन की विवेचना के बाद पुलिस ने मामला कोर्ट में पेश किया, जिसका फैसला बुधवार सुबह आया|

खेत में मिली थी बच्ची

रात 2 बजे घर से करीब एक किमी दूर एक खेत में बच्ची गंभीर हालत में मिली थी| बच्ची को अस्पताल में भर्ती कराया, यहां से उसे जबलपुर मेडिकल कॉलेज रैफर कर दिया गया| लोगों का आक्रोश बढ़ने के बाद प्रदेश सरकार ने बच्ची को इलाज के लिए एम्स दिल्ली भेज दिया| यहां उसका अभी भी इलाज चल रहा है|

Share.