भाजपा विधायक के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी

0

भाजपा के घट्टिया से विधायक सतीश मालवीय के खिलाफ कोर्ट ने गिरफ्तारी वारंट जारी किया है। कोर्ट ने पुलिस को 6 अगस्त तक सतीश मालवीय को गिरफ्तार कर पेश होने को कहा है। सीजेएम डीएस परमार ने आदेश जारी कर कहा है कि एएसपी स्तर के जिम्मेदार अफसर खुद न्यायालय के समक्ष उपस्थित होकर गिरफ्तार नहीं किए जाने के कारणों को स्पष्ट करें।

हालांकि यह पहला मौका नहीं है, जब कोर्ट ने मालवीय के खिलाफ वारंट जारी किया हो। इसके पहले भी कोर्ट ने विधायक मालवीय के खिलाफ वारंट जारी किया था। 23 मार्ट 2018 और 6 जून 2018 को विधायक के खिलाफ जमानती वारंट जारी हुआ है। हर बार पुलिस वारंट लौटा देती थी यह कहकर कि विधायक शहर से बाहर हैं, लेकिन इस बार कोर्ट ने जिम्मेदार अफसर को खुद आगे आने को कहा है।

सतीश मालवीय का क्या है मामला

मामला 22 अगस्त 2015 का है। जब कालिदास अकादमी में केंद्रीय मंत्री नरेंद्रसिंह तोमर एक कार्यक्रम में आए थे। यहां विधायक मालवीय अपने समर्थकों के साथ पहुंचे। जहां भाजपा नेता भंवरसिंह चौधरी से उनका विवाद हो गया। दोष है कि विधायक मालवीय ने अपने साथ आए हाकम पटेल से बंदूक चलाने को कहा था। विधायक के कहने पर हाकमसिंह ने फायर कर दिया, लेकिन उन्हें गोली नहीं लगी।

माधव नगर पुलिस ने विधायक सतीश मालवीय और हाकम पटेल सहित 8 लोगों के खिलाफ धारा 307 के तहत केस दर्ज किया। इसके बाद विवेचना में पुलिस ने विधायक को क्लीनचिट दे दी और आरोपियों के खिलाफ कोर्ट में चालान पेश किया। कोर्ट ने खुद संज्ञान लेकर विधायक मालवीय को गिरफ्तार कर कोर्ट मे पेश करने के आदेश दिए, लेकिन पुलिस गिरफ्तार नहीं कर पाई। अतिरिक्त लोक अभियोजक अमित छारी ने गिरफ्तारी वारंट जारी होने की पुष्टि की है। वहीं एसपी सचिन अतुलकर ने कहा कि गिरफ्तारी के लिए सर्कल के अफसर को निर्देशित करेंगे।

Share.