इस लेडी कॉन्स्टेबल की बहादुरी देखकर दंग रह जाएंगे आप

0

एक दबंग लेडी कॉन्स्टेबल की बहादुरी की चर्चा सोशल मीडिया पर जोर-शोर से हो रही है| अपनी जान पर खेलकर महिला पुलिस ने 15 लोगों की जान बचाई| दरअसल, पुणे की दत्तावाड़ी पुलिस चौकी में कॉन्स्टेबल नीलम गायकवाड़ को सूचना मिली कि मूठा नदी के किनारे के निचले इलाके जनता वसहाट के पास नहर की दीवार टूटने से बाढ़ की स्थिति बन गई है| सूचना मिलते ही महिला वहां पहुंच गई|

लेडी कॉन्स्टेबल वहां पहुंचकर डेढ़ घंटे तक लोगों, खासकर महिलाओं और बच्चों को पानी से बाहर निकालती रहीं| महिला को यह नहीं पता था कि स्थिति इतनी भयानक है इसलिए वह बिना किसी की मदद लिए ही वहां पहुंच गई थी| कॉन्स्टेबल नीलम गायकवाड़ ने बताया, “जब मैं वहां पहुंची तो ऐसा लग रहा था जैसे लोग पानी में बह रहे हैं, जिन्हें बचाने के लिए कोई नहीं था| मैंने अपना पर्स और मोबाइल एक अजनबी को थमाया और पानी में कूदने को तैयार हो गई| जब मैं अपने जूते निकाल रही थी तो मैंने देखा कि एक दुकान का मालिक खुद को डूबने से बचाने की कोशिश कर रहा है| मैंने पास के गैराज से एक टायर उठाया और दुकानदार की ओर फेंका, जिससे वह तैरता रह सके|”

बच्चे को पीठ पर लादकर बचाया

महिला कॉन्स्टेबल की वायरल हो रही फोटो में साफ़ दिख रहा है कि वह बच्चों को पीठ पर लादकर निकाल रही है| पानी उनके पेट तक पहुंच दया था, फिर भी समझदारी दिखाते हुए रस्सी की सहायता से 15 लोगों को सुरक्षित निकाला| बहादुर महिला को लोगों ने खूब दुआएं दीं| वहीं सीनियर पुलिस इंस्पेक्टर देवीदास ने बताया कि नीलम गायकवाड़ हमेशा ऐसे स्थितियों में आगे ही रहती हैं|

Share.