अब्दुल्ला : कांग्रेस ने वाजपेयी को देना था भारत रत्न

0

जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री और नेशनल कांफ्रेंस के अध्यक्ष डॉ.फारुख अब्दुल्ला ने पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहनसिंह के सामने उनकी सरकार की कमियां गिनाई और खेद भी जताया| उन्होंने कहा कि पूर्व पीएम अटलबिहारी वाजपेयी को कांग्रेस ने सही समय पर भारतरत्न नहीं दिया| उन्हें उस समय सर्वोच्च नागरिक सम्मान दिया जाना था, जब वे स्वस्थ थे| 

दरअसल, दिल्ली में आयोजित एक कार्यक्रम में पूर्व पीएम मनमोहनसिंह की मौजूदगी में अब्दुल्ला ने कहा कि इस देश के निर्माण में जितने लोग शामिल हैं, उन्हें भुलाया नहीं जा सकता| उन्होंने कांग्रेस के खिलाफ अपना एक बयान दिया, “जिस मुद्दे पर मैं कांग्रेस के खिलाफ हूं वह यह कि उन्हें अटलबिहारी वाजपेयी को भारत रत्न तब देना चाहिए था, जब वे स्वस्थ और जिन्दादिल थे|”

उन्होंने आगे कहा, “नेहरू ने इस देश में क्या योगदान दिया, यह भूलने की कमजोरी है| इंदिरा गांधी ने इस देश को क्या दिया, उन्होंने अपना जीवन इस देश के नाम कर दिया|  क्या राजीव गांधी और अन्य प्रधानमंत्रियों ने इस देश के निर्माण में अपना पूरा समय नहीं दिया? यदि आज हम यहां बैठे हैं तो सिर्फ उन लोगों की वजह से, पर क्या हम इस बारे में बात कर रहे हैं| अटल बिहारी वाजपेयी ने मुझे बताया था कि जब उन्होंने अपना पहला भाषण दिया तो नेहरू उनके पास गए और कहा, “अटल आप एक दिन इस देश के प्रधानमंत्री बनेंगे| वे आरएसएस पृष्ठभूमि से थे| उन्होंने महसूस किया कि इस देश को किसी एक के दम पर नहीं चलाया जा सकता, सभी की ज़रूरत है|”

मोदी पर वार

फारुख  ने पीएम मोदी की आलोचना करते हुए कहा, “पीएम बोल रहे हैं कि मेरी मां को गाली दी, मेरे बाप को गाली दी, क्या यह एक प्रधानमंत्री का स्तर है? मैंने अपने भाषण में कभी भी अपने माता-पिता का नाम नहीं लिया| देश के प्रधानमंत्री होने के नाते मोदी को बड़ी सोच की ज़रूरत है|”

Share.