काश्मीरी पंडितों का दावा, सच कह रहे हैं राहुल गांधी

0

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के गोत्र को लेकर राजनीतिक जगत में जमकर बवाल मचा है| भाजपा द्वारा कई बार इस मामले को लेकर आरोप लगाए जा चुके हैं, लेकिन अब काश्मीरी पंडितों ने कांग्रेस अध्यक्ष के धर्म को लेकर कुछ दावे किए हैं| वहां के पंडितों का मानना है कि राहुल गांधी जो कह रहे हैं, वह सही है|

दरअसल, एक निजी न्यूज़ चैनल से बातचीत के दौरान काश्मीर के पंडित ओमकारनाथ शास्त्री ने कहा, “आमतौर पर विवाह के बाद लड़की का गोत्र बदल जाता है, लेकिन पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने फिरोज गांधी से शादी के बाद धर्म परिवर्तन नहीं किया इसलिए माना जाएगा कि वे हमेशा काश्मीरी ब्राह्मण ही रहीं| उनका अंतिम संस्कार भी वैदिक रिवाजों से हुआ क्योंकि वे पंडित थीं| उनके बेटों ने भी अपनी मां का ही गोत्र रखा इसलिए राजीव गांधी और संजय गांधी भी पंडित ही हुए|”

उन्होंने आगे कहा, “फिरोज गांधी पारसी थे इसलिए उनका कोई अपना गोत्र नहीं था| यदि इंदिरा अपना धर्म परिवर्तन कर लेतीं तो उनका गोत्र भी समाप्त हो जाता, जैसा नहीं हुआ| राजीव का गोत्र उनके पुत्र राहुल गांधी को मिला इसलिए राहुल गांधी का दावा सही है कि वे कौल ब्राह्मण हैं और उनका गोत्र दत्तात्रेय है| शास्त्रों का अध्ययन ठीक से किया जाए तो ऐसे नियम हैं, जिनमें मां का गोत्र बच्चों को मिलता है|” गौरतलब है कि चुनाव प्रचार के दौरान राहुल गांधी पुष्कर के ब्रह्मा मंदिर गए थे, जहां उन्होंने खुद की जाति काश्मीरी कौल ब्राह्मण और दत्तात्रेय गोत्र बताया था|

जानिए, क्यों राहुल गांधी जाते हैं मंदिर…

चुनाव आयोग हुआ राहुल गांधी पर सख्त

हमारा सीएम 18 घंटे काम करेगा : राहुल गांधी

Share.