कांग्रेस की बैठक पर कैलाश का हमला

0

शीतकालीन सत्र शुरू होने से पहले विपक्ष ने एकजुट होने का मन बना लिया है और भाजपा को घेरने की कवायद शुरू कर दी है। सभी दलों को एक साथ मिलाने के लिए विपक्ष ने दिल्ली में एक बैठक आयोजित की है। टीडीपी सुप्रीमो चंद्रबाबू नायडू द्वारा आयोजित इस बैठक में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, डीएमके अध्यक्ष एमके स्टालिन, तृणमूल कांग्रेस अध्यक्ष ममता बनर्जी, आप के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल और एनसीपी सुप्रीमो शरद पवार के शामिल होने की उम्मीद जताई जा रही है।

शीतकालीन सत्र के पहले आयोजित इस बैठक से इस बात का अनुमान लगाया जा रहा है कि विपक्ष इस बैठक के जरिए सरकार को घेरने की रणनीति पर चर्चा कर सकती है। यह बैठक संसद के शीतकालीन सत्र शुरू होने के एक दिन पहले बुलाई गई है। 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव में भाजपा को घेरने के लिए विपक्ष एक मजबूत गठबंधन को तैयार करने में लगा हुआ है।

एक तरफ जहां पूरा विपक्ष महागठबंधन बनाने की जुगत लगा रहा है वहीं दूसरी तरफ भाजपा ने इसे अपने निशाने पर ले लिया है। भारतीय जनता पार्टी के महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने विपक्ष द्वारा आयोजित इस बैठक पर ही हमला बोल दिया है। विजयवर्गीय ने कहा कि ‘ये काफी अच्छी बात है कि हमारा मुकाबला करने के लिए विपक्षी पार्टियां गठबंधन बना रही हैं, लेकिन पहले प्रधानमंत्री उम्मीदवार की घोषणा तो करने दो, फिर उन्हें हमसे लड़ने और हमें हटाने का सपना देखना चाहिए।’ आगे उन्होंने कहा कि ‘हमारे पास प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हैं, प्रधानमंत्री पद के लिए उनका उम्मीदवार कौन हैं?’

रिज़ल्ट का इंतज़ार, लेकिन बैंड-बाजे तैयार

क्या है बैतूल विधानसभा सीट का रहस्य

विधानसभा चुनाव परिणाम के लिए इंतज़ार !

Share.