नक्सली सरेंडर करें, नहीं तो मारे जाएंगे : रमन

1

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने नक्सलवाद पर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि नक्सली या तो सरेंडर कर दें, नहीं तो हमारे जवान उनको मारने के लिए तैयार हैं। सीएम ने साफ कहा कि अब बीच का रास्ता बंद हो चुका है। सीएम रमन नव आरक्षकों की दीक्षांत परेड़ समारोह में बोल रहे थे।

सीएम रमन ने कहा कि जब तक आखिरी नक्सली सरेंडर नहीं करता या फिर मारा नहीं जाता, तब तक हमारे सैनिकों का ऑपरेशन इसी आक्रामकता से जारी रहेगा। उन्होंने कहा कि नक्सलवाद के खात्मे के लिए आदिवासी समुदाय को भी आगे आना होगा। हमने नक्सलवाद के खात्मे का संकल्प लिया है। पुलिस बल की क्षमता और उनकी संख्या भी बढ़ाई और अर्धसैनिक बल भी लगाए गए हैं।

मुख्यमंत्री डॉ. रमनसिंह  ने कहा कि बस्तर से नक्सलवाद खात्मे के लिए बस्तरिया बटालियन का भी गठन किया गया है। उन्होंने कहा कि जवानों को रिस्पॉन्स भत्ता दिया जाएगा। साथ ही बुलेट प्रूफ जैकेट और जिम की सुविधा भी मिलेगी। सीएम ने नए 10 हजार पुलिस मकान बनाने की भी घोषणा की। इसके साथ ही सीएम ने आरक्षकों का वेतन बढ़ाने की बड़ी घोषणा करते हुए कहा कि मप्र के जवानों के बराबर यहां के आरक्षकों का वेतन दिया जाएगा।

इससे पहले कार्यक्रम में पहुंचे सीएम ने परेड का निरीक्षण किया और सलामी ली। नव आरक्षकों में नए 526 आरक्षक हैं। इनमें महिला आरक्षकों की संख्या 194 है।

यह खबर भी पढ़े – जोगी की बहू ऋचा संभालेंगी रमन के गढ़ की कमान

यह खबर भी पढ़े – परिवार को दो सदस्य नहीं लड़ेंगे चुनाव

यह खबर भी पढ़े – टोना-टोटका करने वाला करेगा राजनीति!

Share.