विपक्ष निकाल रहा बाल की खाल  : योगी

0

उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक चुनावी सभा के दौरान भगवान हनुमान को दलित बताया था| इस बयान को लेकर पूरे देश में जमकर बवाल मचा था| अब अपने बयान को लेकर सीएम योगी ने सफाई दी है और कहा कि उनके बयान को बेवजह तूल दिया जा रहा है| प्रयागराज में संगम किनारे लेटे हुए हनुमानजी के दर्शन के बाद एक कार्यक्रम में सीएम ने कहा कि उनके बयान को गलत तरीके से फैलाया जा रहा है|

उन्होंने कहा, “मेरे बयान को तूल देने वाले वे लोग हैं, जो धर्म का मर्म नहीं समझते हैं| वे बयान के बाल की खाल निकाल रहे हैं, जिसका कोई मतलब नहीं है| किसी के काम पर अंगुली उठाना आसान होता है, लेकिन यदि दूसरों पर अंगुली उठाने के बजाय हर कोई अपनी ज़िम्मेदारी निभाने लगे तो यह धरती दिव्यलोक बन सकती है|”

दरअसल, सीएम प्रयागराज में कांची कामकोटि पीठ द्वारा आयोजित चार दिनों के कुम्भाभिषेकम महोत्सव के समापन के मौके पर पहुंचे थे| वहां पर योगी अचानक हनुमान मंदिर पहुंचे और पूजन करने के बाद प्रतीकात्मक आरती की| उन्होंने वहां मंदिर के महंत और अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि से भी बातचीत की|

समाजवादी पार्टी द्वारा विरोध प्रदर्शन

जब सीएम कार्यक्रम स्थल से लौट रहे थे तो समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने उनका रास्ता रोककर विरोध जताया| उन्होंने काले कपड़े लेकर योगी के काफिले में घुसने की कोशिश की| गौरतलब है कि जब से मुख्यमंत्री योगी ने हनुमानजी को दलित बताया, तब से सभी दलित संगठन उनके विरोधी हो गए हैं| कई स्थानों पर दलितों ने भगवान हनुमान के मंदिरों पर कब्ज़ा कर लिया है|

योगी तो ढोंगी निकले : हार्दिक पटेल

मुस्लिम प्रत्याशी के लिए सभा करे योगी…

योगी : कांग्रेस को चाहिए अली, हमें चाहिए बजरंगबली

Share.