मुज़फ्फरपुर कांड पर बोले नीतीश कुमार- विपक्ष न करे राजनीति

1

बिहार के मुज़फ्फरपुर के बालिका गृह में 34 बालिकाओं के साथ हुई दरिंदगी पर जमकर सियासत जारी है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से लेकर विपक्षी दल तक इस दिल दहला देने वाली घटना को राजनीतिक नज़रिये से भुनाने में लगे हुए हैं। इस दौरान बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सोमवार को मीडिया से बात की। नीतीश ने कहा कि हमने मामला सामने आने के बाद इसकी जांच सीबीआई को सौंपने को कहा और तुरंत सीबीआई ने अपना काम शुरू भी कर दिया है।  हम चाहते हैं कि हाईकोर्ट की निगरानी में जांच हो।

मुख्यमंत्री ने यह माना कि प्रदेश में यह घटना भ्रष्ट सिस्टम का नतीजा है। उन्होंने कहा कि मैंने पहले भी कहा है कि यह सिस्टम में खामी का ही नतीजा है। इसके लिए हमने बारीकी से जांच की है, पूरे सिस्टम को ही बदलने की ज़रूरत है। उन्होंने कहा कि मेरी चुप्पी का गलत मतलब निकाल दिया गया। उन्होंने कहा कि एक-एक फाइल को देखा जा रहा है, मुख्य सचिव के स्तर पर मामले को परखा दिया जा रहा है। नीतीश ने इस दौरान विपक्ष के धरने प्रदर्शन पर हमला बोला। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि जो लोग धरना-प्रदर्शन कर रहे थे, लेकिन वहां पर ही हंस रहे थे।  जो भ्रष्टाचार में लिप्त हैं, वे ही भ्रष्टाचार के मुद्दे पर प्रदर्शन कर रहे हैं।

आज मुजफ्फरपुर कांड मामले की गूंज संसद में भी सुनाई दी। कांग्रेस सांसद रंजीत रंजन ने लोकसभा में मुजफ्फरपुर रेप कांड का मुद्दा उठाया। उन्होंने कहा कि हमने सदन से आपराधिक कानून पास किया, लेकिन सबूत मिटा दिए जाएंगे तो पीड़ितों को कैसे न्याय मिलेगा। इस मुद्दे पर सदन में जमकर हंगामा हुआ।

मुजफ्फरपुर शेल्टर होम पार्ट-2, यूपी के नारी संरक्षण गृह में…

Share.