मोदी के बयान पर चीन की प्रतिक्रिया

0

  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चीन से जारी तनातनी के बीच कहा था कि विस्तारवाद का युग समाप्त हो चुका है. अब इस पर प्रतिक्रिया देते हुए भारत में चीनी दूतावास की प्रवक्ता जी रोंग ने कहा है कि चीन को विस्तारवादी के तौर पर देखना आधारहीन है. रोंग ने ट्वीट कर कहा, ‘’चीन ने शांतिपूर्ण बातचीत के जरिए अपने 14 पड़ोसी देशों में से 12 के साथ सीमा का सीमांकन किया है.’’ इसके साथ ही उन्होंने कहा,’’ चीन को “विस्तारवादी” के रूप में देखना, पड़ोसियों के साथ उसके विवाद को गढ़ना और बढ़ा-चढ़ाकर बताना आधारहीन है.’’

शिवराज मंत्रिमंडल के विस्तार से नाराज उमा भारती का ट्विट


गलवान घाटी में भारतीय और चीनी सैनिकों बीच हिंसक झड़प में 20 जवान शहीद हुए थे. इसके बाद हालत लगातार तनाव भरे है. इसी बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी प्रमुख रक्षा अध्यक्ष जनरल बिपिन रावत के साथ 3 जुलाई को लेह पहुंचे.जवानों को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा, ‘’विस्तारवाद का युग समाप्त हो चुका है. यह युग विकासवाद का है.’’

मेक इन इंडिया : विदेशी कंपनियों की होगी प्राइवेट ट्रेन, 30 हजार करोड़ का निवेश

उन्होंने कहा, ‘‘विस्तारवाद की जिद किसी पर सवार हो जाती है तो उसने हमेशा विश्व शांति के सामने खतरा पैदा किया है, और यह न भूलें इतिहास गवाह है, ऐसी ताकतें मिट गई हैं या मुड़ने को मजबूर हो गई हैं.’’फिलहाल सीमा पर तनाव को देखते हुए भारतीय सेना की तनती कर दी गई है और युद्धायुध सीमा पर भेजे जा रहे है.

भारत-चीन तनाव के बीच मोदी का बॉर्डर पर दौरा  

Share.