70 करोड़ों पुरुषों का डीएनए टेस्ट क्यों करवा रहा है चीन?

0

लद्दाख बॉर्डर के पास गलवान घाटी में भारत के 20 सपूतों की जान से खेलने वाला चीन अभी भी दम नही लेगा ऐसा विशषज्ञों का मानना है क्योकि धोखेबाजी और कुटिलता चीन के खून में है. वेसे भी चीन सीमा हथियाने और मानवाधिकारों के उल्‍लंघन को लेकर पूरी दुनिया में कुख्‍यात है. अब चीन  70 करोड़ों पुरुषों पर निगरानी के लिए पुलिस के द्वारा खून का नमूना ले रही है ताकि एक अभियान के तहत वह एक जेनेटिक मैप बना सके. चीन हाइटेक सर्विलांस स्‍टेट की दिशा में एक कदम और आगे बढ़ने के लिए एसा कर रहा है.

गर्व से भरी नाम आँखों से देश दे रहा शहीदों को अंतिम विदाई  

chinese president Xi Jinping what told in G20 Summit on ...

ऑस्‍ट्रेलियन स्‍ट्रेटजिक पॉलिसी इंस्‍टीट्यूट ने एक अध्धयन के बाद यह खुलासा किया है. इसके अनुसार चीन वर्ष 2107 से ही खून के नमूने डीएनए का डेटाबेस तैयार करने के लिए ले रहा है.  इसमें  एक अमेरिकी कंपनी थर्मो फिशर चीनी प्रशासन की मदद कर रही है.

मोदी और जिनपिंग में हुई 18 मुलाकात, लेकिन नतीजा 20 जवानों की शहादत

Now The Secret Of Dna Will Be Easy To Understand - अब डीएनए ...अल्‍पसंख्‍यकों को निशाना बना रही चीनी पुलिस
चीनी पुलिस अ‍ब इस डेटाबेस के जरिए अल्‍पसंख्‍यकों और वांछित समूहों को अपना शिकार बनाएगी. अत्‍याधुनिक कैमरे, चेहरे को पहचानने वाली तकनीक और आर्टिफिशल इंटेलीजेंस का उपयोग करने वाली  पुलिस का कहना है कि उन्‍हें अपराधियों को पकड़ने के लिए इस डेटाबेस की जरूरत है और डीएनए लेते समय दानदाता से उसकी सहमति ली जाती हैजबकि इससे पूछे की कहानी कुछ और ही है.

चीन के खिलाफ 20 जवान शहीद और एक्शन के नाम पर सर्वदलीय बैठक!

Indian and chinese army face off on ladakh border near the ...

Share.