टिकट बुक करने वाले बने टिकट चेकर

0

रेल मंत्रालय का नया आदेश जारी किया गया है जिसके तहत अब टिकट बुक करने वाले क्लर्क, टिकट चेकिंग का काम करेंगे। टिकट जांच के लिए पर्याप्त स्टाफ की कमी की वजह से रेलवे ने यह कदम उठाने का फैसला किया है। रेलवे के नए आदेश के अनुसार स्टाफ की कमी के कारण जांच ठीक से नहीं हो पाती है और साथ ही यात्रियों को भी काफी परेशानी उठानी पड़ती है। जांच में कमी होने से रेलवे के राजस्व का भी नुकसान हो रहा है।

इस आदेश पर रेलवे का कहना है कि आज के दौर में लगभग 65 प्रतिशत टिकट ऑनलाइन बुक हो रहीं हैं और टिकट बुक करने वाले अधिकारियों के पास काम काफी कम हो गया है। इस स्थिति में अधिकारियों को ट्रेनिंग देकर टिकट चेक करने का काम दिया जा सकता है। रेलवे ने अपने आदेश में कहा कि ट्रेनिंग देकर इसीआरसी (Enquiry cum Reservation Clerk) को स्टेशनों पर टिकट जांच के काम में लगाया जा सकता है।

रेलवे ने आदेश दिया जो अधिकारी स्टेशनों पर टिकट की जांच करते हैं उन्हें चलती ट्रेन में चेकिंग के काम में लगाया जाए। ECRC ने अपने दावे में कहा कि रेलवे में कमर्शियल के लगभग 30 हजार पद खाली हैं, जबकि रेलवे द्वारा हर साल कई नई ट्रेनों की शुरुआत की जाती है। ऐसे में यह पद ही रिक्त रहते हैं। गौरतलब है कि ECRC रेलवे में कमर्शियल डिपार्टमेंट के स्टाफ होते हैं। ECRC यूनियन का कहना है कि रेलवे के तकरीबन 3 लाख पद खाली हैं और इस साल इसमें इजाफा भी होने वाला है। इस साल 40 हजार कर्मियों का स्टॉफ रिटायर होने वाला है ऐसे में पदों का भरा जाना अनिवार्य है।

रेल मंत्रालय की जिम्मेदारी संभालेगा गृह मंत्रालय

रेल की रफ़्तार पर लगा कोहरे का ब्रेक

भारतीय रेल का नया फैसला

Share.