तपोवन टनल में भरा पानी, रेस्क्यू रुका

0

चमोली में आए सैलाब ने सात फरवरी को जो तबाही मचाई उसमें अब तक 30 से ज्यादा लोगों की मौत की पुष्टि हो चुकी है, जबकि 170 से ज्यादा लोग अब भी लापता हैं. राहत और बचाव कार्य पांचवें दिन भी जारी है.तपोवन टनल में फंसे 30 से ज्यादा मजदूरों को बचाने के लिए रेस्क्यू ऑपरेशन अचानक टनल में पानी भर जाने के कारणों से रोका गया है.


एसडीआरएफ का कहना है कि नदी और टनल आपस में मिल गए हैं, इस वजह से मुश्किल आ रही है, अभी हमें जो लिस्ट मिली है, उसके मुताबिक टनल में 39 मजदूर फंसे हो सकते हैं, हमें नहीं पता है कि वह टनल के किस हिस्से में फंसे हैं, हम उनको बचाने के लिए ऑपरेशन चला रहे हैं, जो फिलहाल रूका हुआ है.रेस्क्यू ऑपरेशन रोके जाने पर एसडीआरएफ का कहना है कि अलकनंदा नदी का जलस्तर बढ़ गया है और नदी व टनल एक लेवल एक हो गया है, इस वजह से नदी से भी पानी आ रहा है और टनल से भी पानी आ रहा है, जब भी कीचड़ निकालने की कोशिश कर रहे हैं, तब नदी के जरिए टनल में कीचड़ आ रहा है.

मौके पर मौजूद जिलाधिकारी का कहना है कि हमें अभी नहीं पता है कि जलस्तर कैसे और कितना बढ़ा है, लेकिन लोगों की सुरक्षा के लिए रेस्क्यू ऑपरेशन को बंद किया गया है.अलकनंदा नदी में अचानक बहाव तेज हो गया है. इस वजह से ड्रिलिंग ऑपरेशन को रोकते हुए पहले मशीनें बाहर निकाली गई, फिर रेस्क्यू टीम के लोगों को बाहर निकाल लिया गया है.

Share.