इंदौर में सभापति ने उठाए एमआईसी के प्रस्ताव पर सवाल

1

इंदौर नगर निगम द्वारा प्रस्तावित मैकेनाइज मल्टी लेवल पार्किंग का मामला, विवादों में आ गया है| निगम ने परिषद की बैठक में पार्किंग के प्रस्ताव को हरी झंडी दे दी है, वहीं नगर निगम के सभापति अजयसिंह नरुका इस पार्किंग को लेकर बनाई गई नीति पर सवाल खड़े कर रहे हैं| सभापति नरुका का कहना है कि क्या ग्रेटर कैलाश रोड पर 20 करोड़ की राशि खर्च कर हम उन बहुमंजिला भवनों के लिए पार्किंग बना रहे हैं, जिन्होंने अपने बहुमंजिला भवनों में पार्किंग की जगह दुकानें बना ली हैं। मैं चाहता हूँ इस मामले में नीतिगत निर्णय हो, जिसके माध्यम से हम शहर को एक सौगात दे सकें|

नहीं है राजनीतिक लड़ाई

सभापति अजयसिंह नरुका प्रस्ताव को वापस पुनर्विचार के लिए एमआईसी के पास भेज दिया है| सभापति ने कहा कि उनकी लड़ाई न तो किसी व्यक्ति विशेष से है और ना ही किसी स्थान से, लेकिन इस तरह काम किया गया तो यह गलत परम्परा बन जाएगी। नरुका चाहते हैं कि इस प्रस्ताव पर सभी पक्ष चर्चा करें इसके बाद इस मामले में शहरभर के लिए एक नीतिगत निर्णय हो, जिससे हम शहर को एक सौगात दे सकें| सभापति ने कहा कि वह पूर्व सभापति शंकर यादव द्वारा दिए गए पुनर्विचार के सुझाव के आधार पर इस प्रस्ताव को एमआईसी के पास पुनर्विचार के लिए भेज रहे हैं।

भविष्य में बनेगी बड़ी चुनौती

सभापति अजयसिंह नरुका का कहना है कि बगैर चर्चा के प्रस्ताव को पास किया तो भविष्य में बड़ी चुनौतियां सामने आ सकती हैं| पहले नियमों का उल्लघंन कर बनाई गई ऊंची इमारतें चुनौती बनी हैं| हम कहते हैं कि शहर का यातायात सुगम हो, इसके लिए चर्चा के साथ निर्णय किये जाना आवश्यक हैं| इस बात का भी ध्यान रखा जाना चाहिए कि योजना स्वावलंबी बने| इस बात का ध्यान हमें अभी शुरुआत में ही रखना होगा| इस मुद्दे पर मैं सभी से उनके घर जाकर चर्चा करने को तैयार हूं|

यह खबर भी पढ़े – इंदौर: महिलाओं से छेड़छाड़ के बाद युवक की पिटाई

यह खबर भी पढ़े – छात्रवृत्ति के लिए ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया शुरू

यह खबर भी पढ़े – तीन राज्यों की मॉनिटरिंग इंदौर से करेंगे शाह

Share.