जम्मू-कश्मीर में विकास, आज होंगी बड़ी घोषणाएं

0

जम्मू-कश्मीर में धारा 370 में संशोधन हुए 21 दिन से अधिक समय हो चुका है और वहाँ अब जनजीवन सामान्य हो चला है| ऐसे में केंद्र सरकार अब कश्मीर में विकास के नए आयाम स्थापित करने के बारे में कदम उठाने पर विचार कर रही है।  कश्मीर मुद्दे पर विकास के लिए आज शाम कैबनिट की बैठक होगी, जिसमें विकास के नए फैसले लिए जा सकते हैं|

Giriraj Singh Over Article 370 : खत्म होगा पाकिस्तान, भारत करेगा पिंडदान!

कश्मीर के लिए देश को सम्बोधित करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने देश के सामने अपनी बात रखते हुए जम्मू-कश्मीर को ऊपर उठाने की बात कही है| ऐसे में आज की कैबनिट बैठक में कश्मीर पर नई विकास नीतियों की घोषणा की आशा की जा सकती है| धीरे-धीरे अब घाटियों से पाबंदियां हटाई जा रही है और वहाँ भी देश के अन्य प्रदेश की भांति विकास और जनजीवन को सामान्य करने के प्रयास किये जा रहे हैं|

कैबिनेट में  इन मुद्दों पर जोर दिया जा सकता है

पाकिस्तान ने भारत के लिए किया पूरा आसमान बंद!

जैसे की कश्मीर में रोजगार के नए आयाम स्थापित करना, शिक्षा व्यवस्था पर जोर देना, नए कारखानों को स्थापित करना, जिससे रोजगार को बढ़ावा मिलेगा। कश्मीरी युवाओं के लिए लगभग 50,000  हजार नौकरियों का ऐलान किया जा सकता है। साथ ही पुलिस डिपोर्टमेंट में भी नई रिक्तियां खुलेंगी। जम्मू-कश्मीर में 5 अगस्त को धारा संसोधन किया गया था।

उसी समय मोदी सरकार ने कहा था हम यहां पर विकास के लिए कोई कसर नहीं छोड़ेगे। तब के बाद से ही मंत्रालयों के अधिकारी लगातार जम्मू-कश्मीर का दौरा कर रहे हैं। अलप्संख्यक अधिकारी और उनकी टीम अभी भी वहां बनी हुई है। जल्द ही अन्य प्रमुख मंत्रालयों की टीम और अधिकारी भीं यहां का दौरा करेंगे|

आर्टिकल 370 पर सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने दिया ये आदेश

नई व्यवस्था के अनुसार  31 अक्टूबर को जम्मू-कश्मीर और लद्दाख दो नए केंद्र शासित प्रदेश बन जाएंगे| राज्य में 31 अक्टूबर, 2019 से 106 केंद्रीय कानून पूरी तरह लागू हो जाएंगे, लेकिन 30 अक्टूबर तक केंद्र और राज्य के कानून लागू रहेंगे|

Share.