सीबीआई : कोई भी नहीं सुनवाई का हकदार!

0

सुप्रीम कोर्ट में पिछले कई दिनों से सीबीआई मामले में सुनवाई चल रही है| सीवीसी की रिपोर्ट में कमी के कारण पिछली सुनवाई टाल दी गई थी और आज भी सुनवाई टाली जा चुकी है| आज यानी मंगलवार को कोर्ट ने दोनों पक्षों को जमकर फटकार लगाते हुए नाराज़गी जताई| दरअसल, सीबीआई निदेशक आलोक वर्मा द्वारा सोमवार को सीलबंद लिफाफे में दायर किया गया जवाब लीक हो गया था, जिसे लेकर सीजेआई ने कहा कि कोई भी सुनवाई का हकदार नहीं है|

दरअसल, रिपोर्ट लीक हो जाने के बाद चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने कहा कि सीलंबद लिफाफे में दी गई रिपोर्ट लीक कैसे हो सकती है? ऐसा इसीलिए कहा गया क्योंकि एक वेब पोर्टल पर आलोक वर्मा का जवाब पहले ही बता दिया गया था, जो लिफ़ाफ़े में दिए गए जवाब से मेल खा रहा था| इसके बाद आलोक वर्मा के वकीलों नरीमन और गोपाल शंकरनारायणन ने फिर से सुनवाई का अनुरोध किया|

कोर्ट के जवाब में वकील ने जानकारी न होने की बात कही और कहा कि रिपोर्ट लीक करने वालों को कोर्ट में हाजिर कराया जाना चाहिए| इस जवाब से गुस्साए प्रधान न्यायाधीश ने कहा कि आप में से कोई सुनवाई के लायक नहीं है| उन्होंने कहा कि वह दिन का सारा काम खत्म करने के बाद सीबीआई निदेशक आलोक वर्मा के वकीलों की बात सुनेगा| इस मामले की सुनवाई 29 नवंबर तक के लिए स्थगित कर दी गई| गौरतलब है कि आलोक वर्मा ने उन पर लगे भ्रष्टाचार के आरोपों को लेकर केन्द्रीय सतर्कता आयोग की प्रारंभिक रिपोर्ट पर सोमवार दोपहर सीलबंद लिफाफे में अपना जवाब दाखिल किया था|

आलोक वर्मा पर और जांच की ज़रूरत…

सीबीआई ने आलोक-राकेश को दी छुट्टी, नागेश्वर को मिला जिम्मा

सीबीआई विवाद : सीवीसी ने सौंपी रिपोर्ट और टली सुनवाई

Share.