सरकारी वेबसाइट से हटाये गए कोरोना के आंकड़े

0

दुनिया के ज्यादातर हिस्सों की तरह दक्षिण अमेरिकी देश ब्राजील भी कोरोना वायरस से बुरी तरह प्रभावित है. कोरोना के कुल पॉजिटिव केस में ब्राजील दुनिया में पहले तीन देशों में बना हुआ है . 21 करोड़ की आबादी वाले इस देश में 6 लाख 91 हजार से अधिक लोग संक्रमित हो चुके हैं, और यहाँ 36,455 लोगों की मौत हो चुकी है. अब ब्राजील की सरकार पर कि संक्रमण रोकने के लिए सही कदम नहीं उठाए जाने का आरोप लग रहा है.    राष्ट्रपति जेर बोलसोनारो के खिलाफ ब्राजीली अवाम रोष में है. महामारी के दौरान लोगों ने सड़कों पर उतरकर भी बोलसोनारो का विरोध किया . इन सब के बीच ब्राजील की सरकारी वेबसाइट से कोरोना से जुड़े कई महीनों के आंकड़े हटा लिए गए.

ब्राजील के स्वास्थ्य मंत्रालय का कहना है कि अब देश में कुल कोरोना पॉजिटिव की संख्या नहीं बताई जाएगी. सिर्फ 24 घंटे में आए केस और मौत का आंकड़ा बताया जाएगा. राष्ट्रपति जेर बोलसोनारो ने यह भी कहा है कि कुल आंकड़ों का योग देश की मौजूदा तस्वीर नहीं दिखाता. बोलसोनारो की इसलिए भी आलोचना हो रही है क्योंकि उन्होंने WHO की ओर से सिफारिश किए गए नियमों को नहीं माना और देश में पाबंदियां नहीं लगाईंइसी कारण से राष्ट्रपति जेर बोलसोनारो के समर्थकों ने भी सड़कों पर प्रदर्शन में जनता का साथ दिया. बड़ी बात यह भी है कि कई मौकों पर खुद बोलसोनारो भी इनमें शामिल हुए हैं. ब्राजील की सरकारी वेबसाइट पर राज्य और नगरपालिका में कोरोना संक्रमित हुए मरीजों की संख्या दिखाई जा रही थी जो अब नही दिख रही  .  

स्वास्थ्य मंत्रालय ने ताजा जानकारी देते हुए कहा कि बीते 24 घंटे में कोरोना के 27 हजार से अधिक मामले सामने आए और 904 लोगों की मौत हुई. 24 घंटे में 10 हजार से अधिक लोग रिकवर हुए. आप को बता दे की सरकारी वेबसाइट से कुल आंकड़े तब हेट है जब पिछले लगातार 4 दिन तक ब्राजील में रोज एक हजार से अधिक लोगों की कोरोना से मौत हो रही थी. स्वास्थ्य विशेषज्ञों का कहना है कि ब्राजील में आने वाले दिनों में मामले और बढ़ सकते हैं क्योंकि देश अभी पीक से दूर है. बोलसोनारो ने शुरुआत में कोरोना को मामूली फ्लू कहा था.  

Share.