website counter widget

भाजपा सांसद सावित्रीबाई फुले ने दिया इस्तीफा

0

सांसद सावित्रीबाई फुले ने भाजपा से इस्तीफा दे दिया है। उत्तरप्रदेश के बहराइच से सांसद फुले ने इस्तीफा देने के बाद भाजपा पर तीखा हमला किया। उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा समाज में बंटवारे की साजिश कर रही है। फुले ने साफ कहा कि जब तक वे जिंदा हैं, भाजपा में दोबारा वापस नहीं लौटेंगी।

लखनऊ में आयोजित एक प्रेसवार्ता में इस्तीफे के ऐलान के साथ ही सावित्रीबाई फुले ने भाजपा और आरएसएस पर हमला किया। फुले ने कहा कि भाजपा दलितों के विरोध में है। बाबा साहब आंबेडकर की प्रतिमा पूरे देश में कई जगह तोड़ी गई, परंतु तोड़ने वालों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई। उन्होंने कहा कि भाजपा के बड़े नेता संविधान बदलने की बात करते हैं, परंतु आज तक प्राइवेट सेक्टर में एससी-एसटी के लिए आरक्षण लागू करने का वादा नहीं निभाया गया।

मोदी सरकार को आड़े हाथों लेते हुए फुले ने कहा कि काला धन विदेश से वापस लाने का वादा भी पूरा नहीं किया। मंदिर-मस्जिद का खौफ दिखाकर आपसी भाईचारा खत्म किया जा रहा है। उन्होंने आरोप लगाया कि दलित सांसद होने के कारण उनकी कभी बात नहीं सुनी गई और हमेशा उपेक्षा की गई।

बता दें कि कुछ दिनों पहले राम मंदिर के मुद्दे पर सावित्रीबाई फुले ने भाजपा पर हमला किया था। उन्होंने राम मंदिर को मंदिर न बताकर देश के ब्राह्मणों की कमाई का धंधा बताया था। इससे पहले उन्होंने भगवान राम को शक्तिहीन बताते हुए कहा था कि यदि उनमें शक्ति होती तो अयोध्या में राम मंदिर बन जाता।

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.