Video:चिंतामणि मालवीय ने पुलिसकर्मियों को दी गालियां

1

आमतौर पर नेताओं को जनता के प्रतिनिधि के रूप में जाना जाता है, लेकिन लोकतंत्र के सबसे बड़े सदन में बैठने वाले जनप्रतिनिधि कभी-कभी कुछ ऐसी हरकत कर देते हैं कि लोग भी अचरज में पड़ जाते हैं। हमने जिन्हें चुनकर संसद में भेजा है, उनका चरित्र यह है, ये देखकर सभी हैरान रह जाते हैं। उज्जैन के सांसद चिंतामणि मालवीय की भाषा को देखकर भी अब ऐसा ही लगता है।

चिंतामणि मालवीय ने महाकाल मंदिर में प्रवेश को लेकर पुलिसकर्मियों से अभद्रता की। मालवीय के समर्थकों को मंदिर में जाते समय जब पुलिस ने टोका तो उन्होंने पुलिसकर्मियों को ही गालियां दे डाली।

जिस वक्त चिंतामणि मालवीय गालियां बरसा रहे थे, वहीं कतार में खड़ा कोई शख्स वीडियो बना रहा था। कुछ देर के बाद ही मालवीय का यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया।

यह पहली बार नहीं है| इससे पहले भी कई बार चिंतामणि मालवीय अपनी मर्यादाएं लांघ चुके हैं। उन्हें जनता ने चुनकर सदन में भेजा है, लेकिन आज नेताजी खुद को सबकुछ मानने के चक्कर में अपने आप को कितना नीचे गिराते जा रहे हैं, यह उनकी भाषा से ही स्पष्ट होता है।

महाकाल मंदिर में 6000 लीटर का फ़िल्टर

महाकाल मंदिर में गई कांग्रेस नेता की पनौती

महाकाल मंदिर में हुई नए नियमों के तहत भस्मारती

Share.