छत्तीसगढ़: कांग्रेस भवन में घुस पुलिस ने किया लाठीचार्ज

2

छत्तीसगढ़ के बिलासपुर में पुलिस द्वारा कांग्रेस कार्यालय से कार्यकर्ताओं को निकालकर पीटने का मामला सामने आया है। पुलिस के लाठीचार्ज से कांग्रेस कार्यकर्ता यहां-वहां भागने लगे। पुलिस की कार्रवाई में कई कांग्रेसी घायल हो गए, जिसके बाद पुलिस के इस कदम की आलोचना हो रही है। मुख्यमंत्री रमन सिंह ने न्यायिक जांच के आदेश दिए हैं।

सीएम ने दिए जांच के आदेश

कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर हुए लाठीचार्ज होने पर छत्तीसगढ़ की राजनीति में हलचल मच गई है। सीएम रमनसिंह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि बिलासपुर में मंत्री के घर में कचरा फेंकना और कांग्रेस भवन में लाठीचार्ज दोनों ही घटनाएं गलत हैं। मुख्यमंत्री ने पूरे घटनाक्रम की मजिस्ट्रियल जांच के आदेश दिए हैं। जांच के बाद ही आगे की कार्रवाई तय होगी।

मंत्री के घर फेंका था कचरा

कांग्रेस कार्यकर्ता मंगलवार को छत्तीसगढ़ के नगरीय प्रशासन मंत्री अमर अग्रवाल के घर घेराव करने गए थे। प्रदर्शन कर रहे कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने मंत्री के बंगले के अंदर कचरा फेंक दिया था। इसके बाद पुलिस ने कार्यकर्ताओं पर लाठीचार्ज कर दिया। पुलिस कार्यकर्ताओं को बंगले से गिरफ्तार करना चाहती थी, लेकिन वे प्रदर्शन कर कार्यालय लौट आए। उनके पीछे पुलिस भी कांग्रेस भवन पहुंच गई। कार्यकर्ताओं ने गिरफ्तारी देने से इनकार कर दिया। इसके बाद पुलिसकर्मी कांग्रेस कार्यालय में घुस गए और लाठीचार्ज कर दिया। पुलिस को जो भी दिखा, उस पर लाठी बरसाई गई। कई कार्यकर्ताओं को घसीटकर कार्यालय से बाहर निकाला गया। लाठीचार्ज में घायल दर्जनभर कार्यकर्ताओं को अस्पताल में भर्ती करवाया गया।

इसलिए प्रदर्शन कर रहे थे कांग्रेसी

छत्तीसगढ़ के नगरीय प्रशासन मंत्री अमर अग्रवाल ने कांग्रेस को कचरा कहकर संबोधित किया था। जिसके विरोध में कांग्रेस कार्यकर्ता विरोध-प्रदर्शन करने पहुंचे थे। विरोध प्रदर्शन में करीब 150 से ज्यादा कार्यकर्ता शामिल थे।

राहुल ने ट्वीट कर शेयर किया।

बसपा का छत्तीसगढ़ में गुप्त सर्वे

छत्तीसगढ़ पुलिस को मिली बड़ी सफलता

छत्तीसगढ़: सशस्त्र बल में शामिल हुई 345 महिलाएं

Share.