आँखे दिखा रहे नेपाल ने एक को मारा एक को बनाया बंधक

0

जहाँ एक ओर भारत कोरोना से लड़ रहा है वहीँ समा पर चीन के बढ़ते कदम उसके लिए परेशानी का सबब बन गए है. इसे में नेपाल का आँखे दिखाना जारी है. अब 12 जून सुबह करीब 8.40 बजे बिहार के सीतामढ़ी के सोनबरसा में नेपाल बॉर्डर इलाके (Nepal Border Area) के जानकीनगर गांव के पास नेपाल पुलिस ने अधाधुंध फायरिंग (Nepal Police Firing) कर चार लोगों को घायल कर दिया. बाद में इनमे से एक व्यक्ति की मौत हो गई. अपनी नापाक इरादों के चलते नेपाल पुलिस ने लगन राय नाम के एक व्यक्ति को बंदी भी बना लिया. लेकिन बाद में उसे छोड़ दिया गया . अब तक प्राप्त जानकारी के अनुसार, मृतक के परिजन धरने पर बैठ गए थे और मृत व्यक्ति का दाह संस्कार करने से इनकार करते हुए उचित कार्यवाही की मांग कर रहे थे. इसके बाद नेपाल प्रशासन और सीतामढ़ी के स्थानीय प्रशासन ने बातचीत कर मामला सुलझा लिया.

बीजेपी के राष्ट्रवाद पर राहुल गाँधी का सीधा वार, पढ़े पूरा बयान

बंधक बनाए गए भारतीय नागरिक को नेपाल पुलिस ने छोड़ा, ऐसे सुलझा मामला

शुक्रवार को सीतामढ़ी के पुलिस अधीक्षक अनिल कुमार ने अपनी रिपोर्ट सौंपते हुए कहा, नेपाल के सुरक्षा बलों द्वारा हिरासत में लिए गए लगन राय नाम के व्यक्ति की रिहाई के लिए बिहार सरकार के अनुरोध पर भारत सरकार और नेपाल अथॉरिटी ने आपस में संपर्क किया और मामला सुलझा लिया है.  वहीँ एसएसबी के डीजी कुमार राजेश चंद्रा, सीतामढ़ी की डीएम अभिलाषा कुमारी शर्मा और एसपी अनिल कुमार ने इसे स्थानीय मुद्दा बताया और इसका सीमा विवाद से कोई ताल्लुक नही है यह बात कही. घटना में नेपाल पुलिस ने 18 राउंड फायरिंग की .पहले भी दो बार नेपाल पुलिस ने लोगों को तकलीफ दी है. तीसरी बार फिर भारतीयों पर अंधाधुंध फायरिंग की.

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण का शुभारंभ

बॉर्डर पर नेपाल पुलिस ने की फायरिंग ...

मामला यह है-

कोरोना वायरस के संक्रमण के खतरे को देखते हुए भारत-नेपाल बॉर्डर सील है. बावजूद इसके सीतामढ़ी जिला निवासी लगन राय अपने पुत्र के साथ किसी महिला रिश्तेदार के यहाँ बॉर्डर पार गए. सो नेपाल पुलिस ने बॉर्डर से उन्हें भगाने के लिए आगे आई. पिता-पुत्र ने कुछ समय माँगा तो एपीएफ (नेपाल सशस्त्र प्रहरी बल) ने  लड़के पर लाठी बरसाना शुरू कर दिया. फिर लगन राय को घसीटते हुए बॉर्डर से 100 मीटर दूर ले जाकर बंधक बना लिया. नेपाल पुलिस की हरकत पर बॉर्डर पर क्रिकेट खेल रहे कुछ युवकों और खेतों में काम कर रहे किसानो ने कार्रवाई का विरोध किया. तो नेपाल पुलिस ने अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी. अब नेपाल पुलिस की ओर से कहा जा रहा है कि उन्होंने अपनी सुरक्षा में फायरिंग की.    

मप्र सरकार गिराने को लेकर शिवराज के ऑडियो क्लिप से आया भूचाल

Share.