ATM ट्रांजेक्शन नियमों में बड़ा बदलाव!

0

आजकल के डिजिटल युग में लगभग हर वर्ग के अधिकतर लोग एटीएम का उपयोग करते हैं| इसके कई फायदे भी हैं, जैसे आप कही भी किसी भी समय कैश निकाल सकते हैं, इससे समय की बचत होती है, लेकिन इसके लाभ के साथ-साथ इसके कई दुष्परिणाम भी हैं| इसी बात को ध्यान में रखते हुए दिल्ली स्टेट लेवल बैंकर्स कमेटी (एसएलबीसी) ने कुछ सुझाव दिए हैं| दिन में एक बार ट्रांजेक्शन करने के बाद अगले ट्रांजेक्शन के लिए 6 से 12 घंटे का इंतजार करना पड़ेगा|

Gmail के छुपे हुए फ़ीचर, जो आपको नहीं पता!

यदि आपने सुबह 9 बजे ट्रांजेक्शन किया तो दोबारा आप 3 बजे या रात 9 बजे ट्रांजेक्शन कर पाएंगे| इसी के साथ अन्य सुझाव दिए गए जैसे कि जब आप ट्रांजेक्शन करते हैं तो पिन डालते हैं, लेकिन अब पिन के साथ (OTP)वन टाइम पासवर्ड भी डालना होगा| जो  आपके रजिस्टर्ड मोबाइल न नंबर पर आएगा|

Google Go App स्लो इंटरनेट में भी चलेगा बेहद फ़ास्ट

वैसे कुछ बैंको ने यह नियम पहले से लागू कर रखा है| केनरा बैंक में यदि आप 10,000 से अधिक का ट्रांजेक्शन करते है तो आपको (OTP)वन टाइम पासवर्ड डालना होता है| आजकल एटीएम फ्रॉड और ऑनलाइन मनी ट्रांसफर फ्रॉड की बढ़ती घटनाओं की कारण ऐसे सुझाव पर विचार किया गया है|  देश में एटीएम फ्रॉड केस लगभग 10 प्रतिशत बढ़ा है| वैसे आजकल रिज़र्व बैंक भी समय-समय पर ऐसे मैसेज देकर अपने ग्राहकों को सावधान करता रहता है|

एटीएम फ्रॉड को रोकने के लिए कई बैकों की तरफ से भी ओटीपी का फीचर शुरू किया जाने वाला है| स्टेट बैंक भी जल्द ही इसे लागू करेगा|

ATM यूजर ध्यान रखें-

टाटा स्काई ने पेश किए धमाकेदार अनलिमिटेड ब्रॉडबैंड प्लान

अपने बैंक खाते में मोबाइल नंबर दर्ज करवाएं|

एटीएम जाते समय मोबाइल फोन अपने साथ रखें|

एटीएम में पिन दर्ज करते ही रजिस्टर्ड मोबाइल पर आये ओटीपी देखें|

इस ओटीपी को एटीएम में इंटर करें, फिर ट्रांजेक्शन होगा पूरा|

स्टेट बैंक भी इस नियम को जल्द ही लागू करेगा|

Share.