प्रदेश में होगी अधिकारियों की उठापठक

0

मध्यप्रदेश में विधानसभा चुनाव से पहले राज्य सरकार बड़ी प्रशासनिक सर्जरी करने की तैयारी में है| चुनाव से पूर्व प्रदेश में लगभग एक दर्जन से ज्यादा कलेक्टरों को बदला जा सकता है, लेकिन इन सब के बीच इंदौर में कुछ बड़े बदलाव हो सकते हैं| शहर के कई अधिकारियों को इसी मई माह तक इधर-उधर किया जा सकता है|

इस फेहरिस्त में सबसे पहला नाम संभागायुक्त संजय दुबे का है| बीते कई दिनों से पदोन्नत हो चुके संभागायुक्त संजय दुबे मई माह तक भोपाल मंत्रालय में जा सकते हैं| इंदौर संभागायुक्त के लिए सरकार दो नामों पर विचार कर रही है| इनमें पहला नाम विद्युत् वितरण कंपनी के एमडी और इंदौर के पूर्व कलेक्टर आकाश त्रिपाठी का है वहीं दूसरा नाम वाणिज्य कर आयुक्त राघवेंद्रसिंह का है| इन नामों में त्रिपाठी का नाम आगे माना जा रहा है|

इंदौर नगर निगम कमिश्नर मनीषसिंह को सरकार उज्जैन या देवास में से किसी एक जगह पर भेजने की तैयारी में है, लेकिन अभी इस पर मुहर लगना बाकी है| देवास कलेक्टर और इंदौर जिला पंचायत के पूर्व सीईओ आशीषसिंह को इंदौर नगर निगम आयुक्त बनाया जा सकता है|

इस तरह दूसरे जिलों के कलेक्टरों और अन्य अधिकारियों को भी यहां वहां पदस्थ किया जा सकता है| प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के 24 अप्रैल को जबलपुर-मंडला दौरे के बाद यह बदलाव होगा|

ये कलेक्टर बदलेंगे

चुनाव के चलते होशंगाबाद कलेक्टर अविनाश लवानिया को भोपाल बुलाया जा सकता है| छतरपुर कलेक्टर रमेश भंडारी का जिला बदला जा सकता है| बड़वानी कलेक्टर तेजस्वी नायक को भोपाल में सचिवालय में लाया जा सकता है| छिंदवाड़ा कलेक्टर जेके जैन, भिंड कलेक्टर टी.इलैया राजा, बैतूल कलेक्टर शशांक मिश्रा, दमोह कलेक्टर श्रीनिवास शर्मा, मुरैना कलेक्टर भास्कर लक्ष्कार और विदिशा कलेक्टर अनिल सुचारी को भी बदला जा सकता है|

Share.