सिंधिया को रोकने के लिए नेताओं का प्रपंच

0

मध्यप्रदेश में सत्ता में आने के लिए कांग्रेस सबसे ज्यादा मेहनत कर रही है| कांग्रेस के नेताओं का दावा है कि मध्यप्रदेश में अबकी बार कांग्रेस सरकार जरूर आएगी| लेकिन एक तरफ जहाँ कांग्रेस में जीत का जज़्बा नज़र आ रहा है, वहीँ दूसरी ओर कांग्रेस की केकड़ा लड़ाई भी लगातार लोगों की नज़र में आ रही है| कांग्रेस के नेता चाहे कुछ भी कर लें, अगर वे किसी ना किसी नेता को रोकने का काम ना करें, तो लगता ही नहीं है कि उनमें कांग्रेसी खून है|

ऐसा ही कुछ एक बार फिर कांग्रेस में देखने को मिला| नर्मदा यात्रा के बहाने भाजपा की चिंताएं बढ़ाने वाले दिग्विजयसिंह ने अब कांग्रेस के भी एक खेमे की चिंता बढ़ा दी है| अब दिग्विजयसिंह खुलकर कमलनाथ के समर्थन में आ गए हैं| दिग्विजयसिंह ने अब कह दिया है कि कमलनाथ को प्रदेश के मुख्यमंत्री का चेहरा घोषित करना चाहिए|

उन्होंने दावा कि प्रदेश में मुख्यमंत्री के लिए कमलनाथ से अच्छा कोई चेहरा नहीं हो सकता| वहीँ छिंदवाडा की एक रैली में भी दिग्विजयसिंह कमलनाथ का समर्थन कर चुके थे| जबकि इससे पहले दिग्गी की नर्मदा यात्रा में उनका आशीर्वाद लेने और उन्हें समर्थन देने पहुंचे थे|

पिछले दिनों दिग्गी ने यह भी कहा था कि वे प्रदेश के मुख्यमंत्री की दौड़ में वे नहीं है, लेकिन अगर ज्योतिरादित्य सिंधिया को पार्टी मुख्यमंत्री पद के लिए आगे बढ़ाती है तो वे उनके साथ हैं|

ऐसे में अब दिग्विजयसिंह किसके साथ हैं ये तो खुद वे ही जानें लेकिन उनके इस बयान ने फिलहाल कांग्रेस में सिंधिया समर्थकों को परेशानी में जरूर डाल दिया है|

Share.