भारत में टेलीकॉम क्रांति के जनक रहे अटल बिहारी वाजपेयी

0

अटल बिहारी वाजपेयी ने अपने कार्यकाल में कई ऐसे काम किए हैं, जिनकी वजह से लोग उन्हें इतना प्रेम करते हैं| इस दुनिया से अलविदा कहने के बाद अटलजी के ग़म में पूरी देश में सन्नाटा पसर गया| उन्हीं की बदौलत आज हमारा देश परमाणु संपन्न देश है| उन्हीं की बदौलत देश के घरों में फोन की घंटियां सुनाई दीं| उन्हें देश में मोबाइल क्रांति का जनक माना जाता है| अटलजी ने ही देश की इकॉनोमिक पोटेंशियल से पूरे विश्‍व को परिचित करवाया था| वाजपेयीजी के शासनकाल में ही भारत में टेलीकॉम क्रांति की शुरुआत हुई|

उनके कार्यकाल में टेलीकॉम से संबंधित कोर्ट के मामलों को तेजी से निपटाया गया| इसके बाद ट्राई की सिफारिशें लागू किया गया| स्पैक्ट्रम का आवंटन इतनी तेजी से हुआ कि मोबाइल के क्षेत्र में क्रांति की शुरुआत हो गई| धीरे-धीरे पूरे भारत में मोबाइल फोन से लोग एक-दूसरे से जुड़ने लगे और बातचीत का संचार तेज हो गया|

अटलजी ने टेलीकॉम कंपनियों की कई नीतियां और कानून तैयार किए| भारत संचार निगम लिमिटेड के लिए उन्होंने एक अलग पॉलिसी बनाई| सरकार ने विदेश संचार निगम लिमिटेड के एकाधिकार को खत्म किया|

जिसके बाद धीरे-धीरे भारत के घर-घर में टेलीफोन लग गया| आज के समय में भारत दुनिया के तीन सबसे बड़े स्मार्टफोन बाजारों में से एक है| उम्मीद है कि अगले वर्ष तक भारत अमरीका को भी पीछे छोड़ देगा| दूरसंचार नीति के लिए हम सभी को अटलजी का शुक्रिया अदा करना होगा|

Atal bihariji death: भारतीय राजनीति का चमकता सूरज अस्त, श्रद्धांजलि का दौर..

Atalji death: मैं जीभर जिया, मैं मन से मरूं…

स्मृति स्थल के नजदीक होगा अटलजी का अंतिम संस्कार

Share.