अरुण जेटली : लंबी बीमारी के बाद आज से काम पर लौटे

0

लंबी बीमारी के बाद केंद्रीय वित्‍तमंत्री अरुण जेटली आज से अपना कार्यभार संभाल रहे हैं| वे पिछले तीन महीनों से भी ज्यादा समय में अपने कार्य से दूर रहे| ऐसे कई मौके आए, जब सरकारी निर्णयों में उनकी कमी खली| अब राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने उन्हें वित्त तथा कंपनी मामलों के मंत्रालयों की ज़िम्मेदारी सौंप दी है| उनका दिल्ली के ऑल इंडिया इंस्‍टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज में गुर्दा प्रत्यारोपण हुआ, जिसके कारण 14 मई से उन्हें बिना विभाग का मंत्री बना दिया गया था| अब वे पूरी तरह स्वस्थ है इसलिए वित्‍त एवं कॉरपोरेट मंत्रालय का कार्यभार संभालने को तैयार हैं|

दरअसल, राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सलाह ली, जिसके बाद उन्हें कार्यभार सौंपने का फैसला लिया गया| जब से अरुण जेटली बीमार हो गए थे, तब से वित्‍तमंत्री का अस्‍थायी प्रभार पीयूष गोयल संभाल रहे थे| पीयूष गोयल के पास रेल और कोयला मंत्रालय की भी जिम्मेदारी है|

अपनी बीमारी के कारण वित्तमंत्री पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की शवयात्रा में भी शामिल नहीं हो पाए थे| वे पिछले तीन महीने में सिर्फ उपसभापति के चुनाव के दिन वोट डालने राज्यसभा गए थे| अपनी बीमारी के दौरान अरुण जेटली सोशल मीडिया पर लगातार एक्टिव रहे| उन्होंने कई आर्थिक और गैर-आर्थिक मुद्दों पर लेख भी लिखे| गौरतलब है कि सितंबर 2014 उनका में बैरिएट्रिक ऑपरेशन हुआ था| उस समय यह ऑपरेशन लंबे समय से मधुमेह की बीमारी के कारण वजन बढ़ने के कारण किया गया था|

Share.