भारतीय सेना ने लिया औरंगजेब का बदला

0

भारतीय सेना का मिशन ऑलआउट जारी है। भारतीय सेना रोजाना कई आतंकियों को मौत के घाट उतार रही है। आतंकियों को चुन-चुनकर खत्म कर रही भारतीय सेना ने शनिवार 15 दिसंबर की सुबह से ही जम्मू-कश्मीर(Jammu And Kashmir) के पुलवामा जिले में आतंकियों को घेर रखा है। पुलवामा में सुबह से ही आतंकियों और भारतीय सेना के बीच मुठभेड़ जारी है।मिली जानकारी के अनुसार, भारतीय सेना ने इस मुठभेड़ में हिज्बुल मुजाहिदीन के कमांडर जहूर ठोकर(Zahoor Thoker) सहित 3 आतंकियों को जहन्नुम पहुंचा दिया है।

फिलहाल जवानों ने पूरे इलाके की घेराबंदी कर रखी है। पूरे इलाके में इंटरनेट सेवा को बंद कर दिया गया है। बताया जा रहा है कि राष्ट्रीय राइफल्स के जवान औरंगजेब की हत्या में हिज्बुल मुजाहिदीन के कमांडर जहूर ठोकर का नाम शामिल था। ऐसे में जहूर को मौत के घाट उतारकर भारतीय सेना ने औरंगजेब को श्रद्धांजलि अर्पित की है।

सेना को शनिवार तड़के इलाके में 2 से 3 आतंकियों के छिपे होने की सूचना मिली थी। आतंकियों की सूचना मिलने पर सुरक्षाबलों ने इलाके को घेर लिया और मुठभेड़ शुरू हो गई। सेना ने घंटों चली इस मुठभेड़ में हिज्बुल कमांडर जहूर सहित 3 आतंकियों को मौत की नींद सुला दिया। हालांकि इस मुठभेड़ में भारतीय सेना का एक जवान भी शहीद हो गया। इसके अलावा मुठभेड़ के दौरान स्थानीय लोगों ने भी सेना के जवानों के साथ झड़प की, जिसमे कई लोग घायल हो गए। इससे पहले बुधवार को भी सेना ने बारामुला जिले में 2 आतंकियों को ढेर किया था। आतंकियों की सूचना मिलने पर सेना ने बुधवार शाम रोपोर के बर्थकलां को घेर लिया था और सर्च अभियान चलाया था। इसी दौरान आतंकियों ने सेना के जवानों पर फायरिंग कर दी थी, जिसके जवाब में भारतीय सेना ने फायरिंग कर 2 आतंकियों को ढेर कर दिया था।

पाक प्रधानमंत्री पर भारतीय सेनाध्यक्ष का पलटवार

चिदंबरम ने किया भारतीय सेना का अपमान

भारतीय सेना के खेमे में शामिल हुई कई नई तोपें

Share.