मनमोहन सरकार में 3 बार सर्जिकल स्ट्राइक हुई

0

राजस्थान के चुनावी माहौल में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी शनिवार को उदयपुर पहुंचे, जहां उन्होंने युवाओं और उद्यमियों से संवाद किया। इस दौरान राहुल ने जीएसटी, नोटबंदी, हेल्थ, सर्जिकल स्ट्राइक और महिलाओं से जुड़े मुद्दों पर मोदी सरकार पर तीखा प्रहार किया। उदयपुर के आरसीए स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स ग्राउंड में 400 उद्यमियों और प्रोफेशनल्स से संवाद करते हुए राहुल ने पीएम मोदी पर आरोप लगाया कि उन्होंने सर्जिकल स्ट्राइक जैसे सैन्य फैसले को सियासी संपत्ति बना दिया है।

उन्होंने कहा कि उत्तरप्रदेश के चुनाव में हार सामने दिखी तो पीएम मोदी ने एक सैन्य फैसले को राजनीतिक संपत्ति में बदल दिया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सरकार जैसी सर्जिकल स्ट्राइक मनमोहन सरकार ने भी तीन बार की। क्या आपको पता है। राहुल ने बैंकों की एनपीए को लेकर भी केंद्र सरकार को आड़े हाथों लिया। उन्होंने कहा, यूपीए सरकार ने जब मोदी सरकार को सत्ता सौंपी, तब एनपीए दो लाख करोड़ रुपए थे, जो चार वर्ष में बढ़कर 12 लाख करोड़ रुपए हो गया।

वहीं राहुल गांधी ने नोटबंदी को ऐसा घोटाला बताया, जिसका मकसद छोटे कारोबारियों और दुकानों की रीढ़ तोड़ना था। उन्होंने कहा कि नोटबंदी और जीएसटी को लेकर हिंदुस्तान की जनता भ्रमित है। उन्होंने कहा कि नोटबंदी एक घोटाला था और इसका लक्ष्य सूक्ष्म व लघु कारोबार की, दुकानदारों की रीढ़ तोड़ना था। इससे बड़ी कंपनियों के लिए रास्ते खुल जाएंगे। उन्होंने कहा कि मेडिकल इंश्योरेंस हैं, परंतु अस्पतालों का स्ट्रक्चर नहीं हैं। जितना पैसा पब्लिक हेल्थ केयर में जाना चाहिए, उतना नहीं जा रहा। हिंदुस्तान के सबसे बेहतरीन एजुकेशन इंस्टीट्यूट सरकारी हैं।

Share.