सर्जिकल स्ट्राइक का एक और वीडियो जारी…

0

सर्जिकल स्ट्राइक के दो वर्ष पूरे होने से 2 दिन पहले रक्षा मंत्रालय ने एक वीडियो जारी किया है। इस वीडियो में भारतीय सेना का शौर्य साफ तौर पर दिख रहा है। साल 2016 में 28 और 29 सितंबर को भारतीय सेना ने पीओके में घुसकर सर्जिकल स्ट्राइक को अंजाम दिया था। वीडियो 29 सितंबर का है, जिसमें आतंकियों के लॉन्च पैड नष्ट होते दिख रहे हैं।

सर्जिकल स्ट्राइक 28 सितंबर की रात साढ़े बाहर बजे शुरू होकर अगले दिन साढ़े चार बजे खत्म हुई। सर्जिकल स्ट्राइक की पूरी रणनीति तत्कालीन रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर और एनएसए अजीत डोभाल अपनी नज़र बनाए हुए थे।

फिर आबाद हुआ कैंप

जिस जगह पर भारतीय जवानों ने सर्जिकल स्ट्राइक को अंजाम देकर आतंकियों के कैंप को बर्बाद किया था। अब वहां फिर से कैंप आबाद हो चुके हैं। पहले की तरह यहां आतंकियों को ट्रेनिंग देने का सिलसिला जारी है। खुफिया रिपोर्ट में यह भी सामने आया है कि 250 आतंकी सीमा पार कर भारत में घुसने की तैयारी में है। रिपोर्ट में कुछ नए लॉन्चिग पैड का भी जिक्र है, जिनमें कुछ पाक अधिकृत कश्मीर के लीपा घाटी में हैं।

नहीं हुआ बदलाव

सर्जिकल स्ट्राइक के दौरान आतंकियों के दो ठिकानों पर हमला किया था। आतंकी कैंपों की लगातार बढ़ती संख्या इस बात का सबूत है कि भले ही पाकिस्तान में सत्ता इमरान के हाथों में पहुंच गई, लेकिन पाकिस्तान की सोच में कभी बदलाव नहीं आएगा। इमरान खान के प्रधानमंत्री बनने के बाद आतंकी कैंप काफी बढ़े हैं। अब इनकी संख्या 25-35 के बीच पहुंच चुकी है। इनमें अधिकतर कैंप लश्कर ए तैयबा के हैं, जो लीपा, चकोटी, बाराकोट,जूरा, कहुता इलाके में चल रहे हैं।

म्यांमार में हुई सर्जिकल स्ट्राइक

बता दें कि भारतीय जवानों ने 9 जून 2015 में म्यांमार की सीमा से लगते इलाके चंदेल में भी सर्जिकल स्ट्राइक को अंजाम दिया था। 4 जून 2015 को एनएससीएन-के के उग्रवादियों ने मणिपुर में सेना के काफिले पर हमला कर 18 जवानों की हत्या कर दी थी। जिसका जवाब देने के लिए भारतीय सेना ने यह सर्जिकल स्ट्राइक की थी। पूरे मिशन को करीब 72 स्पेशल कमांडो ने अंजाम दिया था। जवानों ने म्यांमार के अंदर घुसकर उग्रवादियों को ढेर किया था और उनके कैंपों को ध्वस्त किया था।

Share.