कोरोना पर विपक्ष को नसीहत देते अमित शाह ने रैली में खर्चे 144 करोड़ रुपये   

0

कोरोना काल में देश जनता को मरता छोड़ अपनी ज़िम्मेदारियों से पल्ला झाड़ने  वाले पीएम मोदी और उनकी सरकार जहाँ एक ओर पीएम केयर फंड में पैसे जमा करने के लिए देश के सामने हाथ फैलाये भाषणबाजी कर रही है, वही उनके सबसे काबिल सिपाही और गृह मंत्री अमित शाह को इससे कोई सरोकार नही है. वे सब कुछ लेकर विपक्ष पर चढ़ने की तैयारी में है. खुद सरकार में हो हर विपक्ष को जिम्मेदारी का पाठ पढ़ाते अमित शाह ने बिहार चुनाव का बिगुल फूंकने के लिए कोरोना की भी परवाह नहीं की .

अमित शाह ने पहली वर्चुअल रैली में ...

उन्होंने आनन् फानन में वर्चुअल चुनावी रैली कर चुनाव के प्रति अपनी फिक्र जाहिर कर दी लेकिन अमित शाह अब तक कोरोना के प्रति इतने फिक्रमंद नजर नहीं आये जबकि अब वे गृह मंत्री है. साथ ही बात यहाँ रैली में खर्च किये गए धन की भी की जानी चाहिए. क्योकि आर्थिक संकट का हवाला दे कर दान मांगने वाली मोदी सरकार ने इस रैली पर 144 करोड़ रुपए का खर्च किया है.

former bjp president and home minister amit shah bihar virtual ...

वो भी तब जब देश में लोग कोरोना केकारण ईलाज की कमी और भूख से मर रहे है. इसे में क्या सियासत इतनी ज्यादा जरुरी थी की दिसंबर में होने वाले चुनाव के लिए अमित शाह को आज ही रैली करनी पड़ी. ऊपर से अमित शाह इन सब गैर-जिम्मेदाराना हरकतों पर से ध्यान हटाने केलिए इस सब में विपक्ष को बड़ी सफाई से दोषी ठहरा रहे है.

bihar men amit shah ki rally: bihar men amit shah ki rally ...

Share.