SIT के समक्ष हुई अक्षय कुमार की पेशी

0

तीन वर्ष पहले पंजाब के फरीदकोट स्थित बरगाड़ी में सिखों के पवित्र ग्रंथ के अपमान के मामले में पंजाब की स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम (एसआईटी) ने बॉलीवुड के खिलाड़ी कुमार यानी अक्षय कुमार से चंडीगढ़ में पूछताछ की| अक्षय से करीब दो घंटे तक पूछताछ की गई और इस दौरान उनसे इस मामले से जुड़े कई सवाल पूछे गए, जिसमें अक्षय और गुरमीत राम रहीम से रिश्ते को लेकर भी सवाल शामिल थे|

अक्षय कुमार बुधवार सुबह ही चंडीगढ़ पहुंचे थे| पूछताछ के बाद अक्षय को पीछे के रास्ते से एयरपोर्ट के लिए रवाना कर दिया गया| गौरतलब है कि खिलाड़ी कुमार पर डेरा सच्‍चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम से रिश्‍ते और सुखबीर सिंह बादल की गुरमीत से बैठक करवाने के आरोप लगे हैं| तीन वर्ष पहले पंजाब में श्री गुरुग्रंथ साहिब और अन्‍य धार्मिक ग्रंथों का अपमान हुआ था, जिसके बाद वहां हिंसा फ़ैल गई थी| प्रदर्शनकरियों पर काबू पाने के लिए पुलिस ने फायरिंग की थी, जिसमें कई लोगों की मौत हो गई थी|

उस समय डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह पर भी हिंसा भड़काने का आरोप लगा था| अक्षय कुमार पर आरोप है कि उन्होंने राम रहीम सिंह को माफी दिलवाने के लिए मीडिएटर का काम किया था|  इस पर चर्चा करने के लिए अक्षय कुमार ने अपने घर पर सुखबीर बादल और कुछ लोगों के साथ बैठक की थी|

एसआईटी ने अक्षय कुमार सहित पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाशसिंह बादल और पूर्व उपमुख्यमंत्री सुखबीर बादल को भी समन भेजा था, जिसके बाद अक्षय एसआईटी के समक्ष पेश हुए| वहीं दूसरी ओर अक्षय इन आरोपों को नकारते रहे हैं| अक्षय ने अपनी सफाई में कहा था कि अपने पूरे जीवन में वह कभी भी राम रहीम से नहीं मिले हैं और न ही उनका परिवार राम रहीम को मानता है|

गौरतलब है कि एसआईटी इस मामले में अभी तक एडीजीपी जितेंदर जैन, आईजी परमराज सिंह उमरानंगल, आईजी अमर सिंह चहल, फिरोजपुर के तत्कालीन डीआईजी एमएस जग्गी, फरीदकोट के तत्कालीन डीसी एसएस मान, एसएसपी वीके स्याल और एसडीएम के अलावा विधायक मनतार बराड़ से पूछताछ कर चुकी है|

Share.