website counter widget

अजय सिंह के कंधों पर बड़ी जिम्मेदारी

0

लोकसभा चुनाव से पहले पार्टियां कई फेरबदल कर रही है। मध्यप्रदेश कांग्रेस में भी बड़े फेरबदल के संकेत हैं। पार्टी महासचिव, प्रदेश प्रभारी और सचिवों को बदल सकती है। इस बीच ख़बर है कि पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह को दिल्ली बुलाया गया है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार उन्हें संगठन में बड़ी जिम्मेदारी मिल सकती है।

विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रदेश में कमलनाथ को प्रदेश अध्यक्ष और चार कार्यकारी अध्यक्ष बनाए थे। अब कांग्रेस सरकार में है, ऐसे में संगठन में ध्यान देना मुश्किल हो रहा है। ऐसे में कांग्रेस जल्द बदलाव कर सकती है। मुख्यमंत्री कमलनाथ दिल्ली में हैं और उन्होंने अजय सिंह को भी बुलाया है। अजय सिंह दिल्ली के लिए रवाना हो गए हैं।

कहा जा रहा है कि लोकसभा चुनाव के पहले उन्हें प्रदेश में कोई बड़ी जिम्मेदारी मिल सकती है।  कमलनाथ प्रदेश अध्यक्ष भी हैं| मुख्यमंत्री बनने के बाद से प्रदेश अध्यक्ष पद के लिए नए नाम पर विचार शुरू हो गया था। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार मंत्रिमंडल की चर्चा के दौरान भी प्रदेश अध्यक्ष बदले जाने की चर्चा थी, लेकिन अंदरूनी खींचतान के चलते लोकसभा चुनाव तक प्रदेश अध्यक्ष की जिम्मेदारी कमलनाथ के पास ही रहने देने की रणनीति बनाई गई।  अब सरकार और संगठन में बैलेंस बनाना कठिन हो रहा है, क्यूंकि शुरुआत में कई चुनौतियां हैं, व्यस्तता के चलते कमलनाथ संगठन की जिम्मेदारियों पर अधिक ध्यान नहीं दे पाएंगे।  हालांकि पार्टी सभी पहलुओं पर मंथन कर रही है।

सरकार बनने के बाद कयास लगाए जा रहे थे कि अजय सिंह और रामनिवास रावत में से किसी एक नेता को प्रदेशाध्यक्ष की कमान मिल सकती हैं। रामनिवास रावत का नाम सिंधिया खेमे की तरफ से आगे हैं और प्रदेशाध्यक्ष के लिए रावत का नाम दौड़ में आगे भी है। हालांकि अभी तक प्रदेशाध्यक्ष के लिए किसी भी नेता के नाम पर हाईकमान ने मुहर नहीं लगाई है वहीं दूसरे ओर अजय सिंह को भी प्रदेशाध्यक्ष बनाए जाने की चर्चा हैं।

कुशाग्र

रहें हर खबर से अपडेट, ‘टैलेंटेड इंडिया’ के साथ| आपको यहां मिलेंगी सभी विषयों की खबरें, सबसे पहले| अपने मोबाइल पर खबरें पाने के लिए आज ही डाउनलोड करें Download Hindi News App और रहें अपडेट| ‘टैलेंटेड इंडिया’ की ख़बरों को फेसबुक पर पाने के लिए पेज लाइक करें – Talented India News

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.