हनुमान मंदिर पर दलितों का कब्जा !

0

देश में भगवान हनुमान को लेकर बवाल मचा हुआ है| कोई भगवान को दलित बता रहा है तो कोई आर्य| इस मामले को लेकर अब राजनीति भी गरमा गई है| वहीं कुछ दलितों ने तो भगवान के मंदिर को ही अपने कब्जे में ले लिया| दरअसल, उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री ने अपने एक भाषण में संकटमोचन को दलित बताया था, जिसके बाद से इसे लेकर बवाल मचा हुआ है|

जानकारी के अनुसार, उत्तरप्रदेश के आगरा में तीन लोगों ने वहां के मशहूर लंगड़े की चौकी हनुमान मंदिर पर कब्ज़ा जमा लिया| उनका कहना है कि अच्छा हुआ, जो सीएम ने बता दिया कि हनुमानजी दलित थे| सभी लोग वहां जनेऊ पहनकर पहुंचे और ‘दलित देवता हनुमान की जय’ के नारे लगाए| उन्होंने इस बात को देशभर में फैलाने के लिए भी सोशल मीडिया का भी सहारा लिया|

मंदिर पहुंचे लोगों का कांग्रेसियों ने भी साथ दिया| इनका नेतृत्व कर रहे कांग्रेसी अमित सिंह कहना है कि देशभर के हनुमान मंदिरों पर दलितों का अधिकार होना चाहिए| ब्राह्मणों से वहां पूजा कराई जाए या नहीं, इसे दलित ही तय करेंगे| मंदिर का मुख्य पुजारी भी दलित ही होना चाहिए| सदियों से दलितों के साथ भेदभाव होते आ रहा है, अब हमारी बारी आई है|

Share.