इन नेताओं ने की गांधी परिवार से बगावत

0

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के इस्तीफे की खबरों के बीच आज कांग्रेस कार्यसमिति (CWC) की मीटिंग हो रही है.इससे पहले सोनिया गांधी को दो हफ्ते पहले एक पत्र लिखा गया है जिस पर 23 नेताओं के हस्ताक्षर है. हालांकि, सूत्रों का ये भी कहना है कि सिर्फ 23 नहीं, बल्कि देशभर के कुल 303 कांग्रेस नेताओं ने डिजिटल माध्यम से इस पत्र पर हामी भरी है.

 

इनमें गुलाम नबी आजाद, आनंद शर्मा, कपिल सिब्बल, शशि थरूर, जितिन प्रसाद, मुकुल वासनिक, भूपेंद्र सिंह हुड्डा, मिलिंद देवड़ा, रेणुका चौधरी, अखिलेश प्रसाद, पीजे कुरियन, संदीप दीक्षित, टीके सिंह, कुलदीप शर्मा, विवेक तन्खा, पृथ्वीराज चव्हाण, मनीष तिवारी और अरविंदर सिंह लवली जैसे वरिष्ठ नेता पार्टी नेतृत्व में बदलाव चाहते हैं.

कांग्रेस के तीनों मौजूदा मुख्यमंत्री राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह और छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सार्वजनिक तौर पर गांधी परिवार के साथ खड़े हैं.

कैप्टन अमरिंदर ने कहा है कि जब तक सोनिया गांधी चाहें, कांग्रेस अध्यक्ष पद पर बनी रहें और उनके बाद राहुल गांधी ये जिम्मेदारी संभालें. जबकि भूपेश बघेल ने कहा है कि सोनिया गांधी और राहुल गांधी हर चुनौती में उम्मीद की किरण हैं, हम सब उनके साथ हैं. अशोक गहलात ने कहा है कि उन्हें विश्वास है सोनिया गांधी अपने जिम्मेदारी को जारी रखेंगी. गहलोत ने कहा कि अगर सोनिया गांधी पद छोड़ती हैं तो फिर राहुल गांधी को कमान संभालनी चाहिए.

समर्थन में अन्य नेता

एमपी के पूर्व सीएम कमलनाथ
कर्नाटक के पूर्व सीएम सिद्धरमैया
पूर्व मंत्री राजीव शुक्ला
पुड्डुचेरी के सीएम वी नारायणसामी
सांसद अधीर रंजन चौधरी
पूर्व केंद्रीय मंत्री अश्विनी कुमार
पूर्व केंद्रीय मंत्री सलमान खुर्शीद
पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत
सुष्मित देब

Share.