अक्षरधाम मंदिर पर हमले का आरोपित गिरफ्तार

0

गुजरात के अक्षरधाम मंदिर पर साल 2002 में हुए आतंकी हमले के मामले में अहमदाबाद क्राइम ब्रांच को बड़ी सफलता मिली है। क्राइम ब्रांच ने हमले के आरोपी मो.फारुक शेख को अहमदाबाद एयरपोर्ट से गिरफ्तार कर लिया है। फारूक पिछले 16 साल से फरार चल रहा था। 24 सितंबर 2002 में अक्षरधाम मंदिर में आतंकी हमला हुआ था, जिसमें कई लोग मारे गए थे।

हमले का आरोपी फारुक दुबई में रह रहा था। वह सोमवार को अपने रिश्तेदारों से मिलने अहमदाबाद एयरपोर्ट पहुंचा था। सूचना मिलते ही अहमदाबाद क्राइम ब्रांच ने टीम गठित की ओर उसे दबोच लिया। इस हमले का एक और आरोपी अब्दुल राशिद पिछले वर्ष ही गिरफ्तार कर लिया गया था। राशिद को भी अहमदाबाद हवाई अड्डे से गिरफ्तार किया गया था। राशिद मंदिर पर हमले की योजना बनाने वालों में से एक था। हमले के बाद वह रियाद भाग गया था।

अक्षरधाम मंदिर में हमले के लिए आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा को जिम्मेदार ठहराया गया था। वहीं हमलावरों को एनएसजी कमांडो ने मौके पर ही खत्म कर दिया था। हमले के आरोप में पुलिस ने चार लोगों (अब्दुल कय्यूम, आदम अजमेरी, हनीफ शेख और चांद खान) को भी गिरफ्तार किया था। इन आरोपियों की पेशी पोटा अदालत में की गई थी। पोटा अदालत ने इनमें से तीन आरोपियों को मौत की सज़ा जबकि एक को आजीवन कारावास की सज़ा सुनाई थी।

बता दें कि 24 सितंबर 2002 को लश्कर-ए-तैयबा और जैश-ए-मोहम्मद के दो आतंकियों ने गुजरात के गांधीनगर में अक्षरधाम मंदिर पर हमला किया था। इन आतंकियों ने मंदिर में हथियार और ग्रेनेड से लोगों पर हमला किया था। रात में एनएसजी कमांडो ने ऑपरेशन में दोनों आतंकियों को मार गिराया था। हमले में 32 लोग मारे गए थे। वहीं 80 से ज्यादा लोग घायल हो गए थे।

Video: 12500 स्क्वेयर फ़ीट बनेगा गुजरात का भव्य अक्षरधाम मंदिर

यहां घुसे संदिग्ध आतंकी

साबरमती के संत की नगरी हुई बदनाम

Share.