जन्माष्टमी की धूम में दही हांडी के दौरान घायल हुए 36 गोविंदा

0

इस बार पूरे देश में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी दो दिन तक मनाई जा रही है| भगवान के अवतरण का 5244वां वर्ष भक्तों द्वारा बड़े हर्षोल्लास के साथ मनाया जा रहा है| कई जगह दही हांडी जैसी कई कार्यक्रमों का आयोजन किया गया| जहां पूरे देश में जश्न का माहौल है वहीं इस माहौल में महाराष्ट्र के गोविंदाओं का एक समूह बुरी तरह से चोटिल हो गया| दही हांडी के दौरान 36 गोविंदा घायल हो गए, जिसके बाद उन्हें अस्पताल ले जाया गया|

दरअसल, सुबह से ही गोविन्दाओं की टोलियां मटकी फोड़ने के लिए लगी हुई है| वैसे तो इस दौरान कई सामान्य घटनाएं होती ही रहती हैं, लेकिन इस बार 36 से ज्यादा गोविंदा घायल हो गए| गौरतलब है कि इस जश्न भरे माहौल में सुबह से ही बड़ी-बड़ी हस्तियों ने शुभकामनाएं दी हैं| जन्माष्टमी पर देशभर के मंदिरों में भारी संख्या में भीड़ उमड़ रही है| त्यौहार के मद्देनजर महाराष्ट्र में व्यवस्था संभालने के लिए तीन हजार से अधिक जवान तैनात किए गए हैं| मथुरा और वृंदावन में सभी होटल, गेस्ट हाउस और आश्रमों में कमरे फुल हो चुके हैं|

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने इस मौके पर देशवासियों को बढ़ाई दी और कहा, “’जन्माष्टमी के शुभ अवसर पर मैं सभी भारतवासियों को बधाई और शुभकामनाएं देता हूं| भगवान कृष्ण के जीवन और शिक्षाओं का सबके लिए एक प्रमुख संदेश है; ‘निष्काम कर्म’| जन्माष्टमी का यह पर्व हमें मन, वचन और कर्म से शील और सदाचार के मार्ग पर चलने की प्रेरणा दे|” वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट किया, “श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के पावन अवसर पर सभी को हार्दिक शुभकामनाएं| जय श्रीकृष्ण!”

Share.