मुझे नहीं बनना प्रधानमंत्री : गडकरी

1

केंद्रीय सड़क और परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने प्रधानमंत्री की दावेदारी से अपना हाथ खींचते हुए कहा कि मैं जिस जगह हूं, बहुत खुश हूं। आगामी लोकसभा चुनाव में उनका प्रधानमंत्री बनने का कोई इरादा नहीं है। इस बारे में नितिन गडकरी ने कहा कि मुझे गंगा प्रोजेक्ट सहित चारधाम रोड जैसे महत्वपूर्ण प्रोजेक्ट को पूरा करना है। उन्होंने आगे कहा कि अब तक उन्होंने जो भी हासिल किया है, उससे वे पूरी तरह से संतुष्ट हैं।

एक समाचार एजेंसी ने जब गडकरी से सवाल किया कि 2019 के लोकसभा चुनावों में भाजपा की तरफ से क्या वे प्रधानमंत्री पद के दावेदार होंगे? इस सवाल के जवाब में गडकरी ने इस बात से साफ़ इनकार करते हुए कहा कि पीएम पद का दावेदार बनने का उनका कोई इरादा नहीं है। गडकरी ने कहा, “मुझे गंगा प्रोजेक्ट पूरा करना है। एक्सेस कंट्रोल हाईवे का निर्माण करना है। मैं चारधाम रोड और अन्य प्रोजेक्ट को पूरा करना चाहता हूं। मैं जो काम कर रहा हूं, उससे खुश हूं और इसे पूरा करना चाहता हूं।”

दरअसल, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक मोहन भागवत और संघ के महासचिव भैयाजी सुरेश जोशी को, महाराष्ट्र के प्रमुख किसान नेता और वसंतराव नाइक शेटी स्वावलंबन मिशन (वीएनएसएसएम) के अध्यक्ष किशोर तिवारी ने एक पत्र लिखा था। इस पत्र में तिवारी ने लिखा था कि अगर भाजपा 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव में जीत हासिल करना चाहती है तो, प्रधानमंत्री के पद पर मोदी की जगह गडकरी को लाना चाहिए।

Share.