इन घटनाओं का रहा सालभर बोलबाला…

0

साल 2018 में देश में कई बड़ी घटनाएं हुईं। इन घटनाओं ने भी खूब सुर्खियां बटोरी। आइये एक नज़र डालते हैं 2018 में हुई देश की 10 बड़ी घटनाओं (Top 10 Major Incidents Of The Country In 2018) पर, जो चर्चा का विषय बन गईं।

 सुप्रीम कोर्ट की लड़ाई सड़क पर…(Top 10 Major Incidents Of The Country In 2018)

उच्चतम न्यायालय के चार वरिष्ठतम न्यायाधीशों ने शीर्ष अदालत की समस्याओं को सामने रखते हुए 12 जनवरी 2018  को प्रधान न्यायाधीश के खिलाफ बगावत जैसा कदम उठाया।  उन्होंने ‘चयनात्मक तरीके से’ मामलों के आवंटन और कुछ न्यायिक आदेशों पर सवाल उठाए। इससे समूची न्यायपालिका और राजनीति में तूफान खड़ा हो गया। देश के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ, जब सुप्रीम कोर्ट के जजों ने सार्वजनिक रूप से बाहर आकर न्यायपालिका की कार्यप्रणाली पर ही सवाल उठा दिए।

गिर गई भाजपा-पीडीपी सरकार (Top 10 Major Incidents Of The Country In 2018)

जम्मू और कश्मीर में राजनीतिक उठापठक के बीच भाजपा और पीडीपी के गठबंधन वाली सरकार गिर गई। 19 जून 2018 को जम्मू कश्मीर में भाजपा और पीडीपी का गठबंधन समाप्त हो गया और मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने अपना इस्तीफा राज्यपाल को सौंप दिया। इसके बाद जम्मू-कश्मीर राज्यपाल के भरोसे चला।

सरकार के रास्ते से हटे उर्जित पटेल (Top 10 Major Incidents Of The Country In 2018)

10 दिसम्बर 2018 को देश के पांच राज्यों में हुए विधानसभा चुनाव के परिणाम आने से एक दिन पहले ‘भारतीय रिजर्व बैंक’ के गवर्नर उर्जित पटेल ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया। बीते कई दिनों से सरकार और आरबीआई के बीच तनातनी चल रही थी, जिसके बाद उर्जित पटेल ने अपने पद से इस्तीफा दिया।

सीबीआई की लड़ाई सार्वजनिक (Top 10 Major Incidents Of The Country In 2018)

21 अक्टूबर 2018 को सीबीआई के दो सबसे वरिष्ठ अफसरों सीबीआई के डायरेक्टर आलोक वर्मा और स्पेशल डायरेक्टर राकेश अस्थाना के बीच जंग खुलकर सामने आ गई। भ्रष्टाचार के एक मामले में राकेश अस्थाना के खिलाफ सीबीआई ने ही एक एफआईआर भी दायर की। इसके बाद विभागीय भ्रष्टाचार भी सामने खुलकर आया। इसके बाद केंद्र सरकार ने दोनों ही अधिकारियों को लंबी छुट्टी पर भेज दिया। इस मामले से यह बात सामने आई कि सीबीआई भी भ्रष्टाचार से अछूती नहीं है।

बदल दिए गए शहरों के नाम (Top 10 Major Incidents Of The Country In 2018)

16 अक्टूबर 2018 को उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इलाहाबाद का नाम बदलकर प्रयागराज कर दिया। इसके बाद उत्तरप्रदेश सरकार की नाम बदलने को लेकर काफी आलोचनाएं भी हुईं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सोशल मीडिया पर खूब ट्रोल हुए, लेकिन आदित्यनाथ यहां भी नहीं रुके। दीपावली से ठीक पहले उन्होंने शहरों के नाम बदलने की फेहरिस्त में एक नाम और जोड़ा और फैजाबाद का नाम बदल कर अयोध्या कर दिया।

कर्नाटक में जीत के बाज़ीगर बने कुमार स्वामी (Top 10 Major Incidents Of The Country In 2018)

14 मई 2018 को कर्नाटक चुनाव के परिणाम आए। इस चुनाव में भाजपा सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी, लेकिन सरकार नहीं बना पाई। बाद में तीसरे नंबर पर रही जेडीएस और कांग्रेस ने गठबंधन कर सरकार राज्य में सरकार बनाई। हारकर भी जीतने वाले कुमारस्वामी कर्नाटक की राजनीति में बाज़ीगर बनकर उभरे। 23 मई 2018 को शपथग्रहण के कार्यक्रम में ही राहुल गांधी के नेतृत्व में महागठबंधन की तस्वीर देखने को मिली।

मंच से गिरे अमित शाह (Top 10 Major Incidents Of The Country In 2018)

चुनाव प्रचार के दौरान कुछ वाकये ऐसे भी हुए, जिन्होंने लोगों को गुदगुदाया। ऐसा ही एक वाकया मध्यप्रदेश के विधानसभा चुनाव प्रचार में देखने को मिला। यहां 25 नवंबर २0१८ को मध्यप्रदेश के अशोक नगर में एक रैली के दौरान भाजपा अध्यक्ष अमित शाह मंच से फिसल गए। बाद में कार्यकर्ताओं ने शाह को संभाला। इस घटना में शाह को कोई चोट नहीं आई, लेकिन उनका यह वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुआ।

भाजपा के दामन से तीन राज्य बाहर (Top 10 Major Incidents Of The Country In 2018)

देश के 5 राज्यों में हुए विधानसभा चुनाव में भाजपा ने राजस्थान, छत्तीसगढ़ और मध्यप्रदेश में खूब ज़ोर लगाया था। इन तीनों ही राज्यों में भाजपा के कद्दावर नेताओं ने बड़ी जीत का दावा किया था, लेकिन जब चुनाव के नतीजे आए तो भाजपा नेताओं के होश फाख्ता हो गए। 11 दिसम्बर 2018 को भाजपा की मध्यप्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ सहित मिजोरम और तेलंगाना में हार हुई। 3 बड़े राज्यों में कांग्रेस की जीत के साथ ही राहुल गांधी का राजनीति में प्रभाव भी बढ़ा।

सांसद मनोज तिवारी की पिटाई (Top 10 Major Incidents Of The Country In 2018)

दिल्ली में एक पुल के उद्घाटन के दौरान भाजपा और आप की लड़ाई भी खुलकर सामने आई। 4 नवम्बर 2018 को सिग्नेचर पुल के उद्घाटन समारोह में सांसद मनोज तिवारी बिना निमंत्रण पहुंच गए ।इसके बाद उद्घाटन स्थल पर भाजपा और आप के कार्यकर्ता एक-दूसरे के खिलाफ नारेबाजी करने लगे और उनके बीच हाथापाई भी हुई। बताया गया कि आप विधायक ने यहां सांसद मनोज तिवारी के साथ मारपीट भी की।

राहुल का गले मिलना और आंख कांड (Top 10 Major Incidents Of The Country In 2018)

संसद अपने भाषण के दौरान राहुल गांधी ने जहां एक ओर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तीखा हमला बोला, वहीं उन्हें गले लगाकर एक अलग राजनीति का भी संदेश दिया। २0 जुलाई २0१८ को  संसद में राहुल गांधी अपने उद्भोधन के बाद प्रधानमंत्री मोदी के पास जाकर उन्हें गले लगाया। इसके ठीक बाद जब राहुल अपनी सीट पर बैठे तो उन्होंने सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया को आंख भी मारी। संसद में राहुल का मोदी को गले लगाना और आंख मारना दोनों ही खबरों में बना रहा।

ताई और तोमर सहित आधा दर्जन से ज्यादा सांसद खतरे में

राजस्थान में फिर होंगे चुनाव…

भूपेश बघेल ने कांग्रेस में ला दी आंधी

रहें हर खबर से अपडेट, ‘टैलेंटेड इंडिया’ के साथ| आपको यहां मिलेंगी सभी विषयों की खबरें, सबसे पहले| अपने मोबाइल पर खबरें पाने के लिए आज ही डाउनलोड करें Download Hindi News App और रहें अपडेट| ‘टैलेंटेड इंडिया’ की ख़बरों को फेसबुक पर पाने के लिए पेज लाइक करें – Talented India News

Share.