तालिबान हमले में 14 अफगान सैनिकों की मौत

0

अफगानिस्तान के हेरात प्रांत में तालिबान ने एक बार फिर कायराना करतूत को अंजाम दिया है। अभी तक 14 अफगान सैनिकों के मारे जाने की ख़बर सामने आई है। वहीं कई अन्य को बंधक बनाने की जानकारी आ रही है। हेरात प्रांतीय परिषद के सदस्य नजीबुल्ला मोहेबी ने कहा कि हमलावरों ने गुरुवार देर रात निनदांद में सेना की दो बाहरी चौकियों को घेर लिया। उन्होंने कहा कि 6 घंटे तक चली लड़ाई चली।

वहीं सेना ने विद्रोहियो को खदेड़ दिया, परंतु तब तक वे 21 सैनिकों को बंधक बना चुके थे। रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता गफूर अहमद जावीद ने मृतक और घायलों की संख्या 10 बताई है। किसी भी संगठन ने हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है, परंतु अधिकारियों ने इसके लिए तालिबान को दोषी ठहराया है।

बता दें कि यह पहला मौका नहीं है, जब तालिबान ने अफगानिस्तान में सैनिकों को निशाना बनाया हो। इससे पहले सितंबर में तालिबान आतंकवादियों के हमले में अफगान पुलिस के 10 सुरक्षाकर्मियों की मौत हो गई थी।

प्रांतीय गवर्नर के प्रवक्ता जमशीद शहाबी ने कहा कि दोनों ओर से गोलीबारी में करीब 22 तालिबान आतंकवादी मारे गए और 16 अन्य घायल हो गए थे। इधर, बगलान प्रांत के पुलिस प्रमुख इकरामुद्दीन सरीह ने बताया कि तालिबान लड़ाकों ने संयुक्त सेना और पुलिस अड्डे पर हमले किए। इसमें सेना के तीन और पुलिस के दो अधिकारियों की मौत हो गई थी। उन्होंने बताया कि बगलानी मरकजी जिले में हुए इस हमले में सुरक्षा बलों के चार अन्य सदस्य घायल हो गए थे।

तालिबान के ‘समीउल हक’ की हत्या

अफगानिस्तान में तालिबानी हमला

बड़े हमले में 20 पुलिसकर्मियों की मौत

Share.