कानपुर में मॉब लिंचिंग ने ली एक और जान

2

देश में कानून व्यवस्था का दिनों दिन मज़ाक बनाया जा रहा है। मॉब लिंचिंग की घटना जैसे आम बात हो गई है। उत्तरप्रदेश के कानपुर में मॉब लिंचिंग का एक बड़ा मामला सामने आया है। बेकाबू भीड़ ने एक 11वीं कक्षा के छात्र को पीट-पीटकर मार डाला। कानपुर के किदवई नगर इलाके में कोचिंग क्लास के बाहर ही छात्र की जान ले ली।

अंकित 11वीं का छात्र है, जो बगाही इलाके का रहने वाला है। अंकित रोज़ किदवई नगर इलाके में  केमेस्ट्री की कोचिंग पढ़ने आता था। उसका गुनाह  सिर्फ इतना था कि वह दूसरी कोचिंग में पढ़ने वाली लड़की से बात करने लगा था और यह बात कोचिंग के दूसरे लड़कों को पसंद नहीं आती थी। बुधवार रात को भी ऐसा ही हुआ, जब अंकित कोचिंग के बाहर था, तब अचानक दर्जनों की संख्या में कई युवक आए और अंकित को बेरहमी से पीटने लगे और पीट-पीटकर उसकी ह्त्या कर दी। \

घटना की सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और छात्र को एलएलआर अस्पताल ले गयी जहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। इस घटना से दुःखी अंकित के परिवार वालों ने और इलाकाई जनता ने जमकर हंगामा किया। वही हंगामा बढ़ता देख इलाके में भारी पुलिस फोर्स तैनात की गई।

अंकित के दोस्तों और प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि अंकित केमेस्ट्री की कोचिंग पढ़ने आया था। कोचिंग छूटने के बाद अंकित दूसरी कोचिंग में पढ़ने वाली एक लड़की से बातचीत करने लगा। यह नजारा लड़की के साथ पढ़ने वाले राजपाल और आदित्य त्रिपाठी नाम के छात्रों ने देखा तो उन्होंने अंकित को टोका। इसके बाद कहासुनी बढ़ने पर वहां कई सारे लोग पहुंच गए और अंकित को घेरकर लाठी-डंडों से पीटने लगे।

जहां अंकित की कोचिंग है वह भीड़ भरा इलाका है, लेकिन जब अंकित को बेरहमी से पीटा जा रहा था तब सभी लोग सिर्फ तमाशा देखते रहे, कोई मदद के लिए नहीं पहुंचा। जब तक पुलिस आई, तब तक अंकित की मौत हो चुकी थी।

डिंडौरी: बच्चा चोर समझकर भीड़ ने मार डाला

Share.