पंजाब में मोबाइल टावरों पर हमला, इशारा किसानों की ओर

0

केन्द्र की मोदी सरकार के किसान विरोधी कानूनों के खिलाफ आंदोलन का असर अब मोबाइल टावरों पर पड़ रहा है. खबर है कि पंजाब में 1500 से ज्यादा मोबाइल टावरों को नुकसान पहुंचाया गया है, कई मोबाइल टावरों की बिजली काट दी गई तो कई जगह तार के बंडल जला दिए गए या तार तोड़ दिए गए .

आरोप है कि नए कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसान और उनके सहयोगी मोबाइल टावरों को नुकसान पहुंचा रहे हैं. इससे पहले किसानों पर रिलायंस पेट्रोल पंप, रिलायंस रिटेल पर अपना गुस्सा उतारने का आरोप भी लगा था.हालाकि किसानों के खिलाफ ऐसा कोई सुबूत नहीं है.

 

पिछले कुछ दिनों में पंजाब में मोबाइल टावर की पावर काटने, बिजली के तार काटने की घटनाएं सामने आ रही हैं जिनका ठिकरा किसानों के सर फोड़ा जा रहा है. सरकारी सूत्रों के अनुसार अबतक 433 मोबाइल टावरों की मरम्मत भी कर दी गई है.तीन दिन में क्षतिग्रस्त मोबाइल टावरों की संख्या दोगुनी हो गई. 25 दिसंबर को क्षतिग्रस्त टावरों की संख्या 700 थी, अब ये संख्या बढ़कर 1504 हो गई है.

Share.